Covid-19 Update

2,00,282
मामले (हिमाचल)
1,93,850
मरीज ठीक हुए
3,423
मौत
29,853,870
मामले (भारत)
178,745,302
मामले (दुनिया)
×

‘मंदिर में शराब पीकर नहीं जाते तो Alcohol युक्त सैनेटाइजर लगाकर कैसे घुस सकते हैं’

‘मंदिर में शराब पीकर नहीं जाते तो Alcohol युक्त सैनेटाइजर लगाकर कैसे घुस सकते हैं’

- Advertisement -

भोपाल। केंद्र सरकार ने कंटेनमेंट जोन के बाहर आठ जून से धार्मिक स्थलों, रेस्टोरेंट, होटल आदि खोलने की इजाजत दे दी है। इसको लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार शाम को गाइडलाइन जारी कर दी। इसे लेकर सभी धर्म स्थलों पर तैयारी शुरू हो गई है। गाइडलाइन के अनुसार मंदिरों (Temples) के प्रमुख द्वार पर सैनिटाइजर मशीन (Sanitizer machine) लगी हो। प्रवेश से पहले लोग हाथ सैनिटाइज कर मंदिर के अंदर प्रवेश करें। वहीं अब इसका विरोध भी शुरू हो गया है। भोपाल (मध्य प्रदेश) मां वैष्णवधाम नवदुर्गा मंदिर के पुजारी चंद्रशेखर तिवारी (Priest Chandrashekhar Tiwari) ने मंदिरों में सैनिटाइज़र मशीन लगाने का विरोध किया है।

आप हाथ धोने की मशीन सभी मंदिरों के बाहर लगाइए

पुजारी चंद्रशेखर तिवारी का कहना है कि शासन का कार्य है गाइडलाइन जारी करना लेकिन मैं मंदिरों में सैनिटाइज़र मशीन के विरोध में हूं क्योंकि इसमें अल्कोहल (Alcohol) होता है। हम शराब पीकर जब मंदिर में प्रवेश नहीं कर सकते हैं तो अल्कोहल से हाथ सैनिटाइज करके कैसे घुस सकते हैं। आप हाथ धोने की मशीन सभी मंदिरों के बाहर लगाइए,वहां पर साबुन रखिए उसको हम स्वीकार करते हैं वैसे भी मंदिर में तो व्यक्ति घर से नहा कर ही प्रवेश करता है। वहीं पुजारी द्वारा विरोध दर्ज कराने के बाद अब इस मसले को लेकर सोशल मीडिया पर बहस का दौर भी शुरू हो गया है।


यह भी पढ़ें: एक ही IMEI नंबर पर चल रहे थे 13,000 से ज्यादा फोन; China की कंपनी पर दर्ज हुआ मुकदमा

मंदिरों की व्यवस्था में कई तरह के परिवर्तन के निर्देश दिए गए हैं

गौरतलब है कि 8 जून से प्रदेश के सभी मंदिर, मस्जिद समेत अन्य धार्मिक स्थल खुलेंगे। सराकर ने धार्मिक स्थल खोलने से पहले गाइडलाइन जारी किया है, जिसमें मंदिरों की व्यवस्था में कई तरह के परिवर्तन के निर्देश दिए गए हैं। अब मंदिरों में घंटा नहीं होंगे। क्योंकि मंदिर पूजा के लिए आने वाले लोग घंटा बजाते थे। इसके साथ ही पूजा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है