Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

Himachal: प्रोमोटर ने शिकायतकर्ता को फ्लैट खरीदने के लिए ली गई राशि ब्याज सहित लौटाई

14 में से 12 शिकायतों का निर्णय आवंटियों के पक्ष में हुआ, दो अन्य शिकायतों की सुनवाई लंबित

Himachal: प्रोमोटर ने शिकायतकर्ता को फ्लैट खरीदने के लिए ली गई राशि ब्याज सहित लौटाई

- Advertisement -

शिमला। रियल एस्टेट नियामक प्राधिकरण (रेरा) (Real Estate Regulatory Authority) हिमाचल प्रदेश के एक प्रवक्ता ने बुधवार को यहां बताया कि प्राधिकरण को विभिन्न शिकायतकर्ताओं से मैसर्ज राजदीप एंड कंपनी इंफ्रा प्राइवेट लिमिटेड व अन्य के खिलाफ 14 शिकायतें (Complaint) प्राप्त हुई थीं। इस प्रोमोटर के खिलाफ प्राप्त 14 शिकायतों में से 12 शिकायतों का निर्णय आवंटियों के पक्ष में किया गया और दो अन्य शिकायतों की सुनवाई लंबित है। मैसर्ज राजदीप एंड कंपनी इंफ्रा प्राइवेट लिमिटेड और अन्य के खिलाफ डॉ मनमोहन-ए-चंदोला द्वारा 35 लाख 76 हजार रुपये ब्याज सहित रिफंड करने के लिए दायर शिकायत के मामले की सुनवाई 12 फरवरी, 2021 को निर्धारित की गई थी। इस दिन शिकायतकर्ता डॉ. मनमोहन-ए- चंदोला व डॉ. अंजलि चंदोला और प्रोमोटर मैसर्ज राजदीप एंड कंपनी इंफ्रा प्राइवेट लिमिटेड के अधिवक्ता ने प्राधिकरण के ध्यान में लाया कि दोंनों पक्षों ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए जिसके अनुसार 42,31,106 रुपए जिसमें मु0 6,55,107 रुपए ब्याज भी सम्मिलित है वापिस करने हेतु 5 लाख का ड्राफ्ट दे दिया है तथा बाकी राशि के पोस्ट डेटड चेक 21 अगस्त, 2021 तक के दिए गए हैं।


यह भी पढ़ें: हिमाचलः रेरा ने Promoter पर करोड़ों का रिफंड व लगाया जुर्माना, क्यों जानने के लिए पढ़ें खबर

प्राधिकरण के प्रवक्ता ने यह बताया कि इससे पहले भी कांता जॉन धर्मपत्नी विलियम जॉन निवासी ऑकलैंड हाउस स्कूल द्वारा दायर शिकायत में आपसी सहमति द्वारा 10 लाख रुपए शिकायतकर्ता के खाते में जमा करवाये जा चुके है। इस प्रकार दो शिकायतकर्ताओं को 52,31,106 रुपए की राशि ब्याज सहित प्रोमोटर द्वारा प्रदान की गई है। शिकायकर्ता ने रियल एस्टेट नियामक प्राधिकरण हिमाचल प्रदेश द्वारा दोनों पक्षों में आपसी सहमति से वर्तमान मामले को निपटाने के लिए प्राधिकरण के प्रयायों की सराहना की। रियल एस्टेट नियामक प्राधिकरण हिमाचल प्रदेश ने दोनों पक्षों द्वारा इस मामले को सौहार्दपूर्ण तरीके से हल करने लिए किए गए प्रयासों की सराहना की। प्राधिकरण ने प्रसन्नता व संतोष व्यक्त किया कि प्रोमोटर अब आदेश जारी होने से पहले ही आवंटियों की शिकायतों को हल करने में रूचि दिखा रहे हैं। डॉ. मनमोहन-ए- चंदोला व डॉ. अंजलि चंदोला बनाम राजदीप एंड कंपनी व अन्य के मामले में आदेश प्राधिकरण की वैबसाइट पर अपलोड कर दिए गए हैं।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है