×

जंगल में आग लगाई तो खानी पड़ेगी जेल की हवा

जंगल में आग लगाई तो खानी पड़ेगी जेल की हवा

- Advertisement -

jail : धर्मशाला। अब जंगल में आग लगाई तो जेल की हवा खानी पड़ सकती है। लाख जागरूक करने के बाद भी विभाग को लोगों का सहयोग नहीं मिल पा रहा है। बहरहाल, जंगल की आग में जीव जंतुओं और करोड़ों की वन संपदा खाक हो रही है। अब विभाग लोगों को जागरूक करने के साथ-साथ सख्ती बरतने के मूड में है।


jail : आगजनी की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए कवायद

विभाग आग लगाने वालों के खिलाफ पुलिस में एफआईआर दर्ज करवाने की तैयारी में है। डीएफओ धर्मशाला प्रवीण ठाकुर ने बताया कि जंगल में आग लगाते हुए यदि कोई पकड़ा जाता है तो पुलिस में एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी।लोगों को वनों के संरक्षण के प्रति जागरूक होना होगा, वन सभी की संपत्ति हैं, जिनकी देखभाल और संरक्षण भी सभी का दायित्व है। वन कर्मी जंगलों में लग रही आग के प्रति सतर्क हैं तथा जहां भी आग लग रही है, वहां तुरंत पहुंचकर आग पर काबू पाया जा रहा है।

आगजनी की अब तक दो दर्जन से अधिक घटनाएं

फायर सीजन की शुरुआत में ही धर्मशाला व आसपास के क्षेत्रों में दो दर्जन से अधिक आगजनी की घटनाएं घटित हो चुकी हैं। फायरब्रिगेड धर्मशाला की मानें तो 15 अप्रैल से 29 अप्रैल तक आसपास के क्षेत्रों में 25 से अधिक आगजनी की घटनाएं जंगलों में घटित हो चुकी हैं। इस अवधि के दौरान जंगलों में लगी आग से 1.17 लाख रुपए का नुकसान आंका गया है,जबकि फायरब्रिगेड की मुस्तैदी से 7 करोड़ के लगभग की संपत्ति को आग की चपेट में आने से बचाया गया है।

जानकारी के अनुसार फायर सीजन के दौरान अब तक एजुकेशन बोर्ड कालोनी, शहीद स्मारक के साथ लगते जंगल, जवाहर नगर, स्टेडियम के समीप, तपोवन के जंगल और धलूं में गौशाला जंगल में लगी आग की भेंट चढ़ चुकी हैै। धर्मशाला फायर ब्रिगेड के फायर ऑफिसर एसके चौधरी ने बताया कि फायर सीजन की पहले दिन यानी 15 अप्रैल को 1, 18 अप्रैल को 3, 19 अप्रैल को 2, 20 को 2, 21 से लेकर 24 अप्रैल तक 1-1, 25 अप्रैल को 4, 26 अप्रैल को 3, 27 अप्रैल को 4, 28 अप्रैल को 2 और 29 अप्रैल को 1 आगजनी की घटना घटित हुई। उन्होंने बताया कि 29 और 30 अप्रैल की मध्यरात्रि से सुबह तक हुई बारिश से वनों की आग से कुछ हद तक राहत मिली है।

Smart City में बनेगा Integrated Solid Waste Plant

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है