Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

Govt, अब तो PTA शिक्षकों को Regular कर दो

Govt, अब तो PTA शिक्षकों को Regular कर दो

- Advertisement -

7000 PTA शिक्षक राहत की इंतजार में

PTA Teachers: शिमला। PTA शिक्षकों के प्रति प्रदेश सरकार की उदासीनता को देखते हुए PTA शिक्षक संघर्ष मंच ने सरकार से गुहार लगाई है कि उनको जल्द ही Regular किया जाए। उन्होंने कहा है कि जिस तरह सरकार ने पिछली कैबिनेट में पैट, पैरा अध्यापकों को बड़ी राहत दी है, उसी तरह 7000 PTA शिक्षकों को भी राहत दी जाए। प्रदेश सरकार ने PTA शिक्षकों से वादा किया था कि उन्हें जल्द ही रेगुलर किया जाएगा लेकिन अभी तक वादे के अनुरूप कोई राहत नहीं मिल पाई है।

PTA शिक्षक संघर्ष मंच के प्रदेशाध्यक्ष पंकज कुमार, महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष छवि सूद, राज्य उपाध्यक्ष दिनेश पटियाल, महासचिव राजपूत संजीव ठाकुर, मुख्य सलाहकार नरेंदर शर्मा, राज्य कोषाध्यक्ष रविकांत शर्मा, संयोजक कासिम खान, सहसचिव अमित शर्मा, प्रेस सचिव संतोष रावत, जिला कांगड़ा प्रभारी शिवनंदन धीमान, सिरमौर जिला संयोजक अश्वनी ठाकुर, सिरमौर कार्यकारी जिलाध्यक्ष विनोद गौतम, चम्बा प्रभारी कमल हीर, जिलाध्यक्ष चंबा नीरज चौहान, जिलाध्यक्ष कांगड़ा अशोक क्लोत्रा, महासचिव नवीन गुलेरिया, जिलाध्यक्ष हमीरपुर संजीव शर्मा, उपाध्यक्ष पवन लखनपाल, जिला बिलासपुर संयोजक सुनील शर्मा, जिलाध्यक्ष बिलासपुर धर्मपाल गोरा आदि पदाधिकारियों ने सयुंक्त बयान जारी करते हुए कहा है कि सरकार 7000 पीटीए अध्यापकों की सशर्त नियमितीकरण की प्रक्रिया को जल्द शुरू करे।


PTA Teachers: 2 साल से कर रहे पैरवी

गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश PTA शिक्षक संघर्ष मंच पिछले 2 साल से लगातार  सरकार से शिक्षकों के रेगुलर करने की पैरवी करता रहा है। संघर्ष मंच ने सरकार से मांग की है कि PTA अध्यापकों को शिक्षा विभाग में अपनी सेवाएं देते हुए वर्तमान में 11 वर्ष से अधिक समय हो चूका है, इसलिए सरकार PTA अध्यापकों को जल्द सशर्त नियमित करना चाहिए।  कई अध्यापक PTA से ही रिटायरमेंट तक पहुंच चुके है। पदाधिकारियों ने कहा उन्हें पूर्ण विश्वास है कि सीएम जल्द ही प्रदेश के 7000 PTA  शिक्षकों के लिए बड़ी राहत देंगे।

बेरोजगार Trained परिचालक शुरू करेंगे आमरण अनशन

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है