Covid-19 Update

2,16,639
मामले (हिमाचल)
2,11,412
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,392,486
मामले (भारत)
228,078,110
मामले (दुनिया)

किताब प्रकाशकों की शिक्षा मंत्री को धमकी, अगर रवैया नहीं बदला तो प्रकाशित होंगे उनके करतूत

किताब खरीद प्रक्रिया में धांधली के आरोप

किताब प्रकाशकों की शिक्षा मंत्री को धमकी, अगर रवैया नहीं बदला तो प्रकाशित होंगे उनके करतूत

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल समग्र शिक्षा अभियान में करोड़ों की किताब खरीद प्रक्रिया में धांधली के आरोप लगे हैं। जिसे चलते बुधवार को प्रकाशकों के एक समूह ने हिमाचल विधानसभा का घेराव किया। साथ ही प्रदेश के शिक्षा मंत्री पर गंभीर आरोप लगाये. प्रकाशकों के समूह ने विधानसभा के बाहर प्रदर्शन करते हुए कहा कि प्रदेश के शिक्षा मंत्री गोविंद ठाकुर के अड़ियल रवैये के कारण आ्रज वे राजधानी में प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने सीएम जयराम ठाकुर से मांग की है कि वे मामले में जल्द से जल्द हस्तक्षेप कर मामले का निपटारा करें। वहीं, प्रदर्शन कर रहे समूह ने कहा कि अगर मंत्री गोविंद ठाकुर ने अपना रवैया नहीं बदला तो सभी प्रकाशक उनके कारमानों की 50 हजार कॉपियां छाप कर प्रदेश भर में वितरित करेंगे।

यह भी पढ़ें: देख लीजिए CM साहब, आपके राज में लगातार 24 घंटे ड्यूटी करने को मजबूर हैं महिला कर्मचारी

 

भ्रष्ट प्रक्रिया में प्रभावी लोग शामिल

इस दौरान मीडिया से मुखातिब होते हुए प्रदर्शनकारियों ने कहा कि वे बीते दो महीनों से शिक्षा विभाग के मंत्री, सचिव और समग्र शिक्षा के संचालक के सामने अनियमितता के सारे प्रमाण रख चुके हैं। मगर जब स्वयं इस भष्ट प्रक्रिया के सूत्रधार प्रभावी लोग हो, तो परिणाम क्या होगा यह सभी जानते हैं। उन्होंने कहा कि जिस राज्य का मुख्यमंत्री इतना शालीन हो उसके मंत्री, सचिव व संचालकों ने किताब खरीदी प्रक्रिया में घोटाला किया है। बता दें कि प्रकाशकों ने हिमाचल सरकार पर केवल दो-तीन प्रकाशकों को ही तरजीह देने का आरोप लगाया था।

सीएम के सामने रखी मांग

उन्होंने सीएम जयराम से तीन सूत्री मांग रखते हुए कहा कि अत्यंत दोषपूर्ण ढंग से की गयी पुस्तक चयन प्रक्रिया को रद्द किया जाये। दूसरी, शिक्षा मंत्री अपने हठधर्मिता को छोड़कर प्रकाशकों के समूह से बात करें। तीसरी, साल 2019-20 में बिना किसी टेंडर के भारी भ्रष्टाचार कर समग्र शिक्षा अभियान राज्य परियोजना कार्यालय के द्वारा किताबें खरीदी की गयी है। उस प्रकरण को आर्थिक अपराध ब्यूरो से जांच करवाने का आदेश दिया जाए।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है