×

योगीराज स्वामी अमर ज्योति के सानिध्य में विश्व शांति व मानव कल्याण के लिए यज्ञ

योगीराज स्वामी अमर ज्योति के सानिध्य में विश्व शांति व मानव कल्याण के लिए यज्ञ

- Advertisement -

धर्मशाला।गुरू पूर्णिमा के अवसर पर पालमपुर के कंडवाड़ी स्थित महावतार बाबा मेडिटेशन सेंटर ट्रस्ट में योगीराज स्वामी अमर ज्योति के सानिध्य में विश्व शांति व मानव कल्याण के लिए यज्ञ हवन का आयोजन किया गया। विश्व शांति व मानव कल्याण के लिए आयोजित यज्ञ हवन में हिमाचल सहित पड़ोसी राज्यों व विदेश से आए हजारों की संख्या में योगीराज स्वामी अमर ज्योति के अनुयायियों ने हवन यज्ञ में आहुतियां डाल कर पुण्य का लाभ अर्जित किया। योगीराज अमर ज्योति ने गुरु पूर्णिमा पर दिए संदेश में कहा कि साधना, स्वाध्याय, स्वयं व सेवा जीवन के स्तंभ हैं। हर व्यक्ति को जीवन में इनका अनुशरण करना चाहिए।


यह भी पढ़ें :- मात्र आधे घंटे की बारिश से करसोग में घरों व दुकानों में घुसा पानी


इस अवसर पर स्वामी अमर ज्योति के शिष्य व ने पूर्व सीएम प्रेमकुमार धूमल ने भी योगीराज अमर ज्योति से आशीर्वाद प्राप्त किया। संस्थान की ओर से गुरू पूजन कार्यक्रम के उपरांत सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।बीड़ स्थित विशुद्धा नंद सरस्वती आश्रम, सिद्धबाड़ी स्थित स्वामी चिन्मयआश्रम तपोवन सहित अन्य मंदिरों व आश्रमों में भक्तों ने गुरू पूर्णिमा अवसर पूजा-अर्चना कर आशीर्वाद प्राप्त किया। अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में गायत्री शक्ति पीठ धर्मशाला में मंगलवार को विश्व शांति व मानव कल्याण के लिए यज्ञ हवन का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विभिन्न रचनात्मक कार्यो में उल्लेखनीय प्रदर्शन करने वाले स्वयंसेवियों को स्मृति चिह्न एवं शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है