Covid-19 Update

1,42,510
मामले (हिमाचल)
1,04,355
मरीज ठीक हुए
2039
मौत
23,340,938
मामले (भारत)
160,334,125
मामले (दुनिया)
×

कोरोना से सर्वाधिक मृत्यु दर #Punjab में दर्ज; मंत्री ने कहा- को-मोरबिडिटी इसका कारण

कोरोना से सर्वाधिक मृत्यु दर #Punjab में दर्ज; मंत्री ने कहा- को-मोरबिडिटी इसका कारण

- Advertisement -

चंडीगढ़। पंजाब (Punjab) में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने से बुरे हालत हो गए हैं। सूबे में लगातार बढ़ रही मृतकों की संख्या के बीच पंजाब में संक्रमण की वजह से मृत्यु दर 3 फीसदी का स्तर पार हो गई। 70 नई मौतों की भी पुष्टि हुई है। सूबे में कुल मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 2160 हो गया है। वहीं, कोविड-19 से सर्वाधिक मृत्यु दर होने पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा है, ‘यहां कोरोना से हो रही अधिकतर मौतों का कारण को-मोरबिडिटी और (खराब) जीवन शैली से उपजे रोग हैं।’ उन्होंने कहा, ‘वैक्सीन के बिना, रोकथाम का एकमात्र तरीका है सावधानी बरतना।’



देर से संक्रमण का पता चलना उच्च मृत्युदर की वजह

आंकड़ों के मुताबिक पंजाब में सिर्फ अगस्त और सितंबर महीने के 40 दिनों में 1781 मौतें हुईं यानी औसतन 44 लोग हर रोज अपनी जान गंवा रहे हैं। अगस्त माह में 1067 लोगों की मौत हुई जबकि सितंबर महीने के पहले 10 दिन में 714 मौतें हुईं। 30 जुलाई को पंजाब में मृत्युदर 2.38% जबकि 31 अगस्त को सूबे में मृत्युदर 2.72 फीसदी थी। वहीं, सितंबर के 10 दिनों में ही पंजाब ने 3 फीसदी मृत्यु दर के साथ महाराष्ट्र व गुजरात को भी पीछे छोड़ दिया।

यह भी पढ़ें: #Corona Update: हिमाचल में कम हुआ रिकवरी रेट, डेथ रेट बढ़ा- अब तक 66 ने तोड़ा दम

इससे पहले पंजाब में कोरोना वायरस (Coronavirus) से ढेरों लोग की मौत होने पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा कि देर से संक्रमण (Infection) का पता चलना उच्च मृत्युदर (High Death Rate) की वजह है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 मरीजों (Covid-19 Patients) की 60-70 फीसद मौत इसलिए हुई क्योंकि मरीज गंभीर लक्षण सामने आने के बाद स्वास्थ्य केंद्र (Health Center) पहुंचे। उन्होंने एक बयान में कहा कि ऐसे में ये मामले संभालने मुश्किल हो गए। फलस्वरूप मरीजों (Paients) की जान चली गई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है