Covid-19 Update

58,777
मामले (हिमाचल)
57,347
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,122,986
मामले (भारत)
114,822,832
मामले (दुनिया)

पंजाब नगर निकाय चुनाव नतीजे : Congress खेमे में खुशी, अकाली-BJP-AAP को झटका

कृषि कानूनों के मुद्दे पर इस्तीफा देने वाली हरसिमरत कौर भी नहीं बचा पाई पार्टी की साख

पंजाब नगर निकाय चुनाव नतीजे : Congress खेमे में खुशी, अकाली-BJP-AAP को झटका

- Advertisement -

बठिंडा। कृषि कानूनों (Agricultural Laws) के विरोध के दौरान पंजाब नगर निकाय चुनाव में (Punjab Municipal Election) बीजेपी और अकाली दल को बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा है। हालांकि नगर निकाय चुनाव में अकाली दूसरे नंबर की पार्टी रही है, लेकिन कृषि कानूनों के मुद्दे को लेकर केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा देने वाली अकाली नेता हरसिमरत कौर (Harsimrat Kaur) भी अपना गढ़ नहीं बचा सकी हैं। आपको बता दें कि हरसिमरत कौर ने कृषि कानूनों के मुद्दे पर केंद्र में मंत्रीपद से इस्तीफा दे दिया था, लेकिन बठिंडा निगम चुनाव (Bathinda Corporation Election) में 50 सीटों में से अकाली दल केवल सात सीट ही जीत सका है।

ये भी पढ़ेः #Punjab नगर निकाय चुनाव : कांग्रेस बड़ी जीत की ओर, सनी देओल के क्षेत्र में सभी सीटों पर हारी BJP

इसके अलावा पूरे राज्य की बात करें तो बहुत सी जगह तो बीजेपी (BJP) का खाता भी नहीं खुला है, जबकि कई जगह बीजेपी के उम्मीदवार इक्का-दुक्का सीट जीतने में ही कामयाब हुए हैं। किसान आंदोलनों का बहुत बड़ा प्रभाव इनमें देखने को मिला था। कृषि कानूनों के खिलाफ सबसे पहले पंजाब में ही किसानों (Punjab Farmers) ने आवाज उठाई थी। ऐसे में सभी की पंजाब नगर निकाय चुनावों पर नजर थी। आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) भी कृषि कानूनों के मुद्दे को जोर-शोर से उठा रही थी, लेकिन इसका कोई भी फायदा आम आदमी पार्टी को पंजाब नगर निकाय चुनावों में देखने को नहीं मिला, लेकिन निकाय चुनाव के नतीजों में आप जरूर तीसरे नंबर पर रही। इसके अलावा अकाली दल दूसरे नंबर का रहने में कामयाब रहे, जबकि अभी तक की मतगणना में बीजेपी चौथे नंबर पर खिसक गई है।

बठिंडा निगम चुनाव के नतीजे आ चुके हैं, जिसमें कांग्रेस को 43 सीटें पर जीत मिली है तो वहीं अकाली दल मात्र सात सीटें ही जीत पाया है। इसके अलावा बठिंडा निगम चुनाव में बीजेपी और आम आदमी पार्टी का तो खाता ही नहीं खुला है। जानकारी के अनुसार बठिंडा निगम चुनाव में इस बार कांग्रेस को बढ़त हासिल हुई। इस वजह से निगम में 53 वर्ष बाद कांग्रेस का मेयर बनेगा। मेयर की दौड़ में वार्ड नंबर 48 से जीत हासिल करने वाले कांग्रेस नेता जगरूप सिंह गिल का नाम आगे चल रहा है। हालांकि कांग्रेस की तरफ से अभी तक मेयर के नाम की कोई भी घोषणा नहीं हुई है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है