Covid-19 Update

1,99,467
मामले (हिमाचल)
1,92,819
मरीज ठीक हुए
3,404
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

समय पर नहीं पहुंची लोनिवि की मशीनरी तो ग्रामीणों व छात्रों ने 1500 रुपए इकट्ठे कर खुलवा दी सड़क

समय पर नहीं पहुंची लोनिवि की मशीनरी तो ग्रामीणों व छात्रों ने 1500 रुपए इकट्ठे कर खुलवा दी सड़क

- Advertisement -

कुल्लू। जब प्रशासन व लोक निर्माण विभाग ने भूस्खलन से अवरुद्ध मार्ग को बहाल करने की जहमत नहीं उठाई तो ग्रामीणों व बच्चों ने 1500 रुपए इकट्ठे किए और खुद जेसीबी (JCB) बुलवाकर मार्ग को बहाल किया। प्रशासन की सुस्ती का यह अजब वाक्या सैंज घाटी में देखने को मिला है। भारी बारिश के कारण लारजी-सैंज,न्यूली सड़क मार्ग पर पागलनाला में रात 2 बजे बाढ़ आ गई। इसी के चलते यह मार्ग बंद हो गया।

यह भी पढ़ें :-आफत की बारिश : मंडी-पठानकोट एनएच बंद, पालमपुर के ऊपरी इलाके में फटा बादल


शनिवार सुबह घर से काम के लिए निकले ग्रामीण व स्कूली छात्र यहां पहुंचे तो देखा कि मार्ग तो बंद पड़ा था। पहले तो सभी इंतजार करते रहे लेकिन जब 10 बजे तक विभाग की ओर से कोई भी मशीनरी (Machinery) यहां मार्ग बहाल करने नहीं पहुंची तो सभी ने पैसे इकट्ठे कर जेसीबी बुलाई और सड़क मार्ग बहाल किया। ग्रामीणों ने जिला प्रशासन पर अनदेखी का आरोप लगाते हुए कहा कि सैंज घाटी की 15 पंचायतों के लोगों को पागलनाला में बाढ़ के कारण पिछले एक माह से यातायात के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि विधायक सुरेन्द्र शौरी को भी समस्या के समाधान के लिए अवगत करवाया लेकिन उन्होंने भी ध्यान नहीं दिया। सैंज संघर्ष समिति अध्यक्ष महेश शर्मा ने बताया कि घाटी में सड़कों की खस्ताहाल स्थिति के कारण किसानों, बागवानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि विभाग (Department) के अधिकारियों को उन्होंने सूचित करने का प्रयास किया लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया।

बरसात के कारण एक माह से पागलनाला में बाढ़ (Flood) से बार-बार मलबा सड़क पर आ रहा है, जिससे कई घंटों सड़क बंद होने के कारण किसान,बागवान परेशान हो रहे है। अगर प्रशासन ने पागलनाले में बाढ़ की समस्या का समाधान नहीं किया तो आगामी समय में चक्का जाम किया जाएगा। उधर, एसडीएम मनी राम भारद्वाज ने कहा कि उन्होंने बारिश के मद्देनजर लोक निर्माण विभाग को मशीनरी तैयार रखने को कहा है। उनकी जानकारी में अभी तक ऐसी बात नहीं आई है फिर भी मामले का संज्ञान लिया जाएगा।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है