Covid-19 Update

1,42,510
मामले (हिमाचल)
1,04,355
मरीज ठीक हुए
2039
मौत
23,340,938
मामले (भारत)
160,334,125
मामले (दुनिया)
×

सहकारी सभा में सचिव की नियुक्ति पर उठाए सवाल

सहकारी सभा में सचिव की नियुक्ति पर उठाए सवाल

- Advertisement -

धर्मशाला। शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत द अनसुई कृषि सेवा सहकारी सभा सीमित में सचिव पद की नियुक्ति पर, इस पद की दौड़ में रही एक महिला ने ही सवाल उठाए हैं। सचिव पद के लिए आवेदन करने वाली एक महिला ने सचिव की नियुक्ति को नियमों के विपरीत करार देते हुए इसकी जांच की मांग की है। आवेदनकर्ता मधु शर्मा ने बताया कि कृषि सेवा सहकारी सभा में रिक्त चल रहे सचिव पद के लिए आवेदन मांगे गए थे, जिसमें 17 लोगों ने आवेदन किया था। 16 फरवरी को आयोजित सचिव पद के लिए साक्षात्कार में 4 आवेदनकर्ताओं ने टॉप किया, जिसमें मधु शर्मा भी शामिल थी। मधु शर्मा का आरोप है कि जनरल कैटेगिरी से होने के चलते उन्हें सचिव पद पर नियुक्ति से बाहर कर दिया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि सभा पदाधिकारियों ने नियमों के विपरीत और अपनों को लाभ पहुंचाया है। ऐसे में इसकी जांच की जानी चाहिए और पात्र व्यक्ति को सचिव पद पर नियुक्ति दी जानी चाहिए। मधु ने बताया कि सचिव पद भर्ती में की गई धांधली की शिकायत वह रजिस्ट्रार कोआपरेटिव सोसायटी से भी करने जा रही हैं, जिससे इस भर्ती प्रक्रिया की जांच कर पात्र को नियुक्ति मिल सके। मधु का आरोप है कि सभा द्वारा सचिव पद के लिए जो सूचना प्रसारित की गई थी, उसमें कहा गया था कि सचिव पद के लिए कोई भी आवेदन कर सकता है, इसके बावजूद इंटरव्यू के बाद उन्हें जनरल कैटेगिरी का बताकर सचिव पद की दौड़ से बाहर कर दिया गया।


  • नियमों के विपरीत चहेतों को नियुक्ति देने का आरोप
  • रजिस्ट्रार कोआपरेटिव सोसायटीज से भी की जाएगी शिकायत

यही नहीं नियमानुसार सभा के किसी भी सदस्य द्वारा इस पद पर अपने रिश्तेदार को सचिव पद पर नियुक्त नहीं किया जा सकता, लेकिन यहां भी नियमों को दरकिनार कर सभा सदस्य के भतीजे को नियुक्ति दे दी गई है। मधु का आरोप है कि सभा में वर्तमान में कार्यरत सचिव का कार्यकाल पूरा हो चुका है, लेकिन उसे अभी तक रिटायर नहीं किया गया है। मधु ने वर्तमान सचिव पर पद के दुरुपयोग के भी आरोप लगाए हैं। वहीं इस बारे में अध्यक्ष, द अनसुई कृषि सेवा सहकारी सभा सीमित जोगिंद्र भाटिया का कहना है कि द अनसुई कृषि सेवा सहकारी सभा सीमित में सचिव पद के लिए हुए साक्षात्कार नियमानुसार किए गए हैं। साक्षात्कार व सचिव पद नियुक्ति में किसी तरह के नियमों की अनदेखी नहीं की गई है। सभा पर लगाए गए आरोप निराधार हैं।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है