Covid-19 Update

2,18,202
मामले (हिमाचल)
2,12,736
मरीज ठीक हुए
3,650
मौत
33,650,778
मामले (भारत)
232,110,407
मामले (दुनिया)

कल राहुल बोले थे- महाराष्ट्र में Congress डिसिजन मेकर की भूमिका में नहीं है, आज आदित्य को फोन कर दी सफाई

कल राहुल बोले थे- महाराष्ट्र में Congress डिसिजन मेकर की भूमिका में नहीं है, आज आदित्य को फोन कर दी सफाई

- Advertisement -

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) अक्सर अपने बयानों को लेकर जवाब देते फिरते नजर आते हैं। एक बार फिर ऐसा ही कुछ हुआ जब राहुल ने मंगलवार को एक बड़ा बयान देते हुए कहा दिया कि महाराष्ट्र (Maharashtra) में कांग्रेस डिसिजन मेकर की भूमिका में नहीं है। फिर क्या था, राहुल के इस बयान ने सूबे का राजनीतिक तापमान बढ़ गया और सियासी बयानबाजी का दौर शुरू हो गया। जिसके बाद अब राहुल गांधी ने शिवसेना नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) से फोन पर बातचीत करते हुए अपने बयान को लेकर सफाई दी है।

यह भी पढ़ें: टिड्डी दलों के हमले से कई राज्य परेशान; अब Punjab-Haryana में जारी हुआ अलर्ट

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते ग्राफ पर दिया था यह बयान

राहुल ने आदित्य ठाकरे से बात कर कहा कि एमवीए सरकार और सीएम उद्धव ठाकरे के साथ कांग्रेस है। हालांकि, राहुल के बयान के बाद राजनीतिक कलह शुरू होने पर महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं ने तुरंत बयान दिया था कि हम उद्धव सरकार के साथ हैं। इसके बाद शिवसेना (Shivsena) ने भी कहा था कि सभी सहयोगी दल एक साथ हैं और महाराष्ट्र सरकार स्थिर है। जिसके बाद अब अब राहुल गांधी ने आदित्य ठाकरे से बात करके तमाम तरह की अफवाहों पर विराम लगा दिया है। बता दें कि इससे पहले मंगलवार को महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते ग्राफ पर मंगलवार को राहुल गांधी ने कहा था कि हम महाराष्ट्र में सरकार को समर्थन कर रहे हैं लेकिन फैसला लेने की क्षमता में नहीं हैं।

यह भी पढ़ें: ‘Lockdown Fail’ बताने पर राहुल को रविशंकर का जवाब; चीन-नेपाल संकट पर भी बोले कानून मंत्री

हम सिर्फ केंद्र को सुझाव दे सकते हैं, उन्हें क्या मानना है वो उनके ऊपर है

कांग्रेस नेता ने अपने बयान में आगे कहा था कि हम पंजाब-छत्तीसगढ़-राजस्थान में फैसला लेने की क्षमता में हैं। जितनी ज्यादा कनेक्टटेड जगह हैं, वहां कोरोना होता है। मुंबई-दिल्ली में इसलिए अधिक मामले हैं। राहुल ने कहा कि महाराष्ट्र को भी केंद्र सरकार की ओर से मदद मिलनी चाहिए। हम सिर्फ केंद्र सरकार को सुझाव दे सकते हैं, लेकिन सरकार को क्या मानना है वो उनके ऊपर ही है। वहीं राहुल गांधी के बयान के बाद कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता और उद्धव सरकार में मंत्री बालासाहेब थोराट ने कहा था कि कांग्रेस और महा विकास अघाड़ी (MVA) के अन्य दलों के बीच कोई मतभेद नहीं है। कांग्रेस दुखी नहीं है। हम सभी नेता मिलते रहते हैं और कम से कम सप्ताह में एक बार मीटिंग जरूर करते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है