Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

किसानों के समर्थन में राष्ट्रपति से मिले #Rahul_Gandhi, प्रियंका हिरासत के बाद रिहा

राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर बोला हमला, संसद का संयुक्त सत्र बुलाने की मांग

किसानों के समर्थन में राष्ट्रपति से मिले #Rahul_Gandhi, प्रियंका हिरासत के बाद रिहा

- Advertisement -

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसानों का आंदोलन आज 29वें दिन में पहुंच चुका है। दिल्ली की हाड़ कंपा देने वाली ठंड और शीतलहर भी किसानों का हौसला नहीं तोड़ पा रही है। वहीं, किसानों को खुला समर्थन देते हुए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) विजय चौक से लेकर राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकालने वाले हैं। इससे पहले ही दिल्ली पुलिस ने प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) और कांग्रेस नेताओं को रोक दिया और उन्हें हिरासत में ले लिया। फिलहाल उन्हे रिहा कर दिया गया है। उधर, दूसरी ओर राहुल गांधी ने कृषि कानून के मसले पर राष्ट्रपति से मुलाकात की, जिसके बाद उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला बोला।


राहुल गांधी बोले कि राष्ट्रपति से हमने कहा है कि इन कानूनों से किसानों को नुकसान होने वाला है, देश को दिख रहा है कि किसान कानून के खिलाफ खड़ा है। मैं पीएम से कहना चाहता हूं कि किसान हटेगा नहीं, जब तक कानून वापस नहीं होगा तब तक कोई वापस नहीं जाएगा। राहुल गांधी ने कहा कि सरकार संसद का संयुक्त सत्र बुलाए और इन कानूनों को तुरंत वापस लें। आज किसान दुख और दर्द में हैं, कुछ किसानों की मौत भी हुई है।

वहीं, हिरासत में ली गईं प्रियंका गांधी ने कहा कि मोदी सरकार अपनी जिद पर अड़ गई है। आज जो भी सरकार से सवाल करता है, उन्हें देशद्रोही बता दिया जाता है। किसानों के लिए ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करना पाप है, अगर सरकार उन्हें देशद्रोही कह रही है तो सरकार पापी है।

प्रियंका बोलीं कि सरकार के दिल में किसानों के लिए कोई इज्जत नहीं है। इससे पहले प्रियंका गांधी ने दिल्ली पुलिस द्वारा रोके जाने पर आपत्ति दर्ज कराई थी और कहा था कि इस सरकार के खिलाफ किसी भी विरोध का आतंक के तत्वों में वर्गीकृत किया जाता है। उन्होंने आगे कहा कि हम किसान के समर्थन में आवाज बुलंद करने के लिए यह मार्च कर रहे हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट (Tweet) कर सरकार को घेरा है। राहुल ने लिखा कि भारत के किसान ऐसी त्रासदी से बचने के लिए कृषि-विरोधी क़ानूनों के ख़िलाफ़ आंदोलन कर रहे हैं, इस सत्याग्रह में हम सबको देश के अन्नदाता का साथ देना होगा।

आज फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे किसान

उधर, किसानों भी आज एक बार फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। किसान मोर्चा की ओर से अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म पर वेबिनार का आयोजन किया जा रहा है, ताकि अगर लोगों के कुछ सवाल हो तो वो जवाब दे सकें। किसानों के आंदोलन के बीच आज किसान सेना के समर्थक और किसान कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात करेंगे। किसान सेना नए कृषि कानूनों पर अपना समर्थन देगी।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है