Covid-19 Update

58,543
मामले (हिमाचल)
57,287
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,077,957
मामले (भारत)
113,760,666
मामले (दुनिया)

अमृतसर हादसा : 20 साल से वहीं जल रहा था रावण, रेलवे को पता नहीं जमीन है किसकी

अमृतसर हादसा : 20 साल से वहीं जल रहा था रावण, रेलवे को पता नहीं जमीन है किसकी

- Advertisement -

नई दिल्ली। अमृतसर रेल हादसे को लेकर आरोप-प्रत्यारोपों के बीच रेलवे प्रशासन अब इस बात की तहकीकात करने जुटा है कि रेल फाटक से 300 मीटर दूर रावण दहन के लिए इस्तेमाल की जा रही जमीन आखिर में है किसकी ? बताया जाता है कि इसी जगह पर पिछले 20 साल से रावण जलाया जाता है। ऐसे में रेल प्रशासन इस बात से इनकार नहीं कर सकता कि उसे कार्यक्रम की जानकारी नहीं थी।

रेलवे के अधिकारी अभी यह जानकारी जुटा रहे हैं कि ट्रैक के पास जिस ग्राउंड में रावण दहन का कार्यक्रम आयोजित हुआ, वह जगह असल में किसकी है। रेलवे इस बात की जानकारी जुटा रहा है कि जिस स्थान पर कार्यक्रम आयोजित हुआ, क्या वह जमीन रेलवे के हिस्से में आती है? स्थानीय लोगों का कहना है कि जिस जगह पर रावण दहन किया जा रहा था, वहां पिछले 20 साल से दशहरे पर रावण दहन का कार्यक्रम होता आया है। लोगों का यह भी कहना है कि रेलवे को मालूम था कि दशहरे पर हर साल वहां रावण दहन का कार्यक्रम होता है। इसे देखते हुए ट्रेन के ड्राइवर को अगर पहले ही हिदायत दी जाती तो हादसा इतना बड़ा नहीं होता। इस हादसे में अभी तक 61 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है।

भीड़ वाली जगह पर कम होती है ट्रेन की स्पीड

रेलवे का गाइडलाइन के अनुसार, शहरी क्षेत्रों में जहां पर पटरियों के किनारे कोई आयोजन हो तो वहां ड्राइवर को ट्रेन की स्पीड कम करने के निर्देश दिए जाते हैं। रेलवे के लिए यह जांच का विषय है कि क्या डीएमयू के ड्राइवर को ऐसे निर्देश दिए गए थे या नहीं। ये निर्देश इसलिए दिए जाते हैं, ताकि लोगों के पटरियों पर आने की आशंका को देखते हुए कोइ्र बड़ा हादसा न हो।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है