Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

इस रिमझिम सावन में पहनें रंग-बिरंगे Raincoat

इस रिमझिम सावन में पहनें रंग-बिरंगे Raincoat

- Advertisement -

मौसम बदलने के साथ-साथ जरूरतें भी अलग-अलग हो जाती हैं। मानसून की बारिश के साथ ही बरसात से बचाव के लिए जरूरी माने जाने वाले सामानों का बाजार भी सज गया है। इस बार बारिश से बचने के पारंपरिक साधन छातों की बजाय रेनकोट की मांग ज्यादा है। दुकानों में नई-नई कंपनियों के अच्छे से अच्छे छाते हैं।

रेनकोट और रंग-बिरंगी टोपी भी लोगों को खूब भा रहे हैं, वहीं बाजार में छाता भी पहुंच चुका है, लेकिन अभी इसकी ग्राहकी कम है। लोग छाता खरीदने की बजाय रेनकोट की मांग ज्यादा कर रहे हैं। छाते का चलन पहले की अपेक्षा कम है। बाजार में महिलाओं एवं पुरुषों के साथ-साथ बच्चों के लिए भी अलग-अलग छाते कई रंगों में उपलब्ध हैं। रेनकोट भी कई वेराइटी में आ रही है। युवाओं को बरसाती सूट ज्यादा पसंद आ रहा है। इसकी कीमत 200 से 900 रुपए तक की रेंज में है।

बारिश के इस मौसम में छाते की जरूरत तो हम सभी को रहती है, लेकिन छतरी खरीदते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, इस बारे में कम ही लोग सोचते हैं। जिस तरह हर चीज को खरीदने के कुछ खास पैमाने होते हैं, उसी तरह छाते खरीदने से पहले भी कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए। ऐसे में अगर आपने अभी तक छाता नहीं खरीदा है और खरीदने का मन बना रहे हैं तो दुकान पर जाकर सबसे पहले इन बातों को परखें और उसके बाद ही छाता लें। छाता खरीदते समय इन बातों का ध्यान रखें –

  • छाते की लंबाई 10 या 11 इंच हो तो बेहतर रहेगा।
  • ध्यान रखें कि छतरी की गोलाई अच्छी हो ताकि पूरी सुरक्षा मिले।
  • छाते का हैंडल आरामदायक होना चाहिए ताकि बहुत देर तक हैंडल पकडऩे पर भी हाथों में दर्द न हो।
  • दाम देखकर कभी भी छाता नहीं खरीदें।
  • छाते का शाट मजबूत होना चाहिए।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है