Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,594,803
मामले (भारत)
231,514,397
मामले (दुनिया)

रायजादा का आरोप- निजी क्लीनिक भी चला रहे Una Hospital में तैनात डॉक्टर

रायजादा का आरोप- निजी क्लीनिक भी चला रहे Una Hospital में तैनात डॉक्टर

- Advertisement -

ऊना। क्षेत्रीय अस्पताल ऊना (Regional Hospital Una) में अव्यवस्थाओं को लेकर ऊना सदर से कांग्रेस के विधायक सतपाल रायजादा (Congress MLA Satpal Raizada) ने प्रदेश सरकार को आड़े हाथ लिया है। रायजादा ने कहा कि क्षेत्रीय अस्पताल में ना ही पूरा स्टाफ है और ना ही डाक्टरों के पास उपकरण है, वहीं कई डॉक्टर तो सरकारी नौकरी के साथ साथ निजी क्लीनिक भी चला रहे है। रायजादा ने कहा कि इसका खामियाजा मरीजों को अपनी जान गंवा कर चुकाना पड़ रहा है। रायजादा ने कहा कि उन्होंने सीएम को बताया था कि क्षेत्रीय अस्पताल में तैनात तीन-चार चिकित्सक अपने घर व क्लीनिक पर भी काम कर रहे हैं और क्लीनिक में काम करते हुए अगर अस्पताल से एमरजेंसी कॉल आ जाए, तो अस्पताल भी नहीं आते हैं। लेकिन सरकार ने इस ओर कोई कार्रवाई नहीं की।

यह भी पढ़ें: सोलन में पत्नी ने रेता पति का गला, गंभीर हालत में PGI रेफर

रायजादा ने कहा कि जब हम कोई मुद्दा उठाते है तो भाजपा के नेता कहते है कि कांग्रेस के कार्यकाल में ऐसा होता था। रायजादा ने कहा कि अकसर सुधार के लिए ही सरकारें बदलती है। अगर कांग्रेस सरकार में कुछ अच्छा नहीं हो रहा था तो जनता ने इनको मौका दिया। रायजादा ने कहा कि लेकिन बीजेपी की सरकार में दोगुनी रफ्तार से अपराध और खनन माफिया बढ़ रहा है वहीं इसी रफ्तार से अस्पताल की व्यवस्थाएं भी चरमरा रही है। हालत यह है कि ऊना का क्षेत्रीय अस्पताल पीजीआई रेफर के नाम से मशहूर हो गया है। उन्होंने कहा कि ताजा मामला पिछले कल का है, जहां डिलीवरी के बाद महिला की लापरवाही से मौत हो गई। इसके लिए सरकार पूरी तरह से जिम्मेवार है।

विधायक सतपाल रायजादा ने कहा कि विपिन परमार को स्वास्थ्य मंत्री बने दो वर्ष हो गए है, लेकिन क्षेत्रीय अस्पताल ऊना की व्यवस्था को सही करने में पूरी तरह से विफल रहे हैं। ऐसे में स्वास्थ्य मंत्री को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। उन्होंने कहा कि बीजेपी के 44 विधायक जीत कर आए हैं, ऐसे में किसी और को स्वास्थ्य मंत्री बनने का मौका देना चाहिए, ताकि अस्पताल की व्यवस्थाओं को सुधारा जा सके। रायजादा ने सीएम जयराम ठाकुर से भी गुजारिश है कि ऐसे मंत्री को पद से हटाएं और क्षेत्रीय अस्पताल ऊना के हालत का सुधार करें। रायजादा ने बीजेपी सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि जल्द से जल्द क्षेत्रीय अस्पताल ऊना का सुधार न किया गया, तो आने वाले दिनों में क्षेत्रीय अस्पताल ऊना के बाहर धरना दिया जाएगा।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है