Covid-19 Update

2,18,523
मामले (हिमाचल)
2,13,124
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,694,940
मामले (भारत)
232,779,878
मामले (दुनिया)

राजस्थान सरकार ने सीएए के खिलाफ पास किया प्रस्ताव; केरल, पंजाब के बाद तीसरा राज्य

राजस्थान सरकार ने सीएए के खिलाफ पास किया प्रस्ताव; केरल, पंजाब के बाद तीसरा राज्य

- Advertisement -

नई दिल्ली। राजस्थान सरकार (Rajasthan government) ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ शनिवार को विधानसभा में प्रस्ताव पास करते हुए केंद्र से इस कानून को रद्द करने का आग्रह किया। केरल और पंजाब के बाद राजस्थान ऐसा करने वाला देश का तीसरा राज्य बन गया। राज्य के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि उनकी सरकार केंद्र के इस कानून का पुरजोर विरोध करती है। इस दौरान विपक्षी बीजेपी ने सदन में इस प्रस्ताव के विरोध में जमकर नारेबाजी की। बतौर रिपोर्ट्स, राज्य द्वारा एनपीआर के तहत मांगी गईं नई जानकारियों को भी वापस लेने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें: मौसम बदलेगा करवट: 30 तक रहेगा खराब, यह दो दिन होगी भारी बारिश-बर्फबारी

राजस्थान विधानसभा में सीएए के खिलाफ पेश प्रस्ताव में कहा गया कि संसद द्वारा अनुमोदित सीएए के जरिए धर्म के आधार पर अवैध प्रवासियों को निशाना बनाया गया है। धर्म के आधार पर ऐसा भेदभाव ठीक नहीं है। यह संविधान की धर्मनिरपेक्ष वाली मूल भावना के खिलाफ है। यही कारण है कि सीएए के खिलाफ देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं। प्रस्ताव में एनआरसी और असम का भी जिक्र किया गया है। बता दें कि सीएए हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदाय के सदस्य के लिए नागरिकता प्रदान करता है, जो 31 दिसंबर, 2014 से पहले भारत आ गए थे, लेकिन मुस्लिम समुदाय के सदस्यों के लिए नहीं।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है