Covid-19 Update

2,05,383
मामले (हिमाचल)
2,00,943
मरीज ठीक हुए
3,502
मौत
31,470,893
मामले (भारत)
195,725,739
मामले (दुनिया)
×

देश की सौदेबाजी कर रहे ‘न खाऊंगा और न खाने दूंगा’ कहने वाले : रजनी पाटिल

देश की सौदेबाजी कर रहे ‘न खाऊंगा और न खाने दूंगा’ कहने वाले : रजनी पाटिल

- Advertisement -

शिमला। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल ने कहा है कि देश के इतिहास में पहली बार देश विरोधी कट्टर ताकतें अपने वोट बैंक को मजबूत करने के लिए गलत तरीके अपना रही हैं। पहले 5 साल देश के इतिहास से छेड़छाड़ करने में गंवाने वाली केंद्र सरकार दूसरे कार्यकाल में भी काम करने की बजाय देश को तोड़ने में लगी है। जारी प्रेस विज्ञप्ति में रजनी पाटिल ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार हो रहा है कि दिल्ली (Delhi) के रामलीला मैदान से कांग्रेस पार्टी 14 दिसंबर को भारत बचाओ रैली के आयोजन से बड़े आंदोलन की शुरूआत कर रही है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें

आजादी के बाद देश को दोबारा गुलाम होने से बचाने के लिए इस आंदोलन का शंखनाद किया जा रहा है, क्योंकि देश में हालात बदतर हो चुके हैं।उद्योग धड़ाधड़ बंद हो रहे हैं। नौकरियों पर संकट छाया हुआ है और महंगाई (Inflation) ने हर वर्ग का जीना मुश्किल कर दिया है। प्याज की कीमतों पर ही सरकार नियंत्रण नहीं कर सकी है जोकि कई जगहों पर डेढ़ सौ रूपए से पार हो चुका है। सरकार देश को चंद उद्योगपतियों के आगे नतमस्तक होकर सरकारी उपक्रमों की सौदेबाजी में लगी हुई है।इ तना सबकुछ होने के बावजूद सरकार नए-नए विधेयक लाकर पब्लिसिटी में लगी हुई है।


न खाऊंगा और न खाने दूंगा जैसे जुमले बोलने वालों के सामने देश को बेचने का मसौदा तैयार हो रहा है। ऐसी परिस्थितियों से देश को उबारने के लिए ही आजादी की लड़ाई में बलिदान देने वाली देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस (Congress) द्वारा भारत बचाओ रैली का आयोजन किया जा रहा है जिसमें हिमाचल से भी हजारों कार्यकर्ता शामिल होंगे। इसके लिए सारी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। उन्होंने जनता से भी आह्वान किया कि अब वक्त आ गया है कि सभी एकजुट होकर घरों की दहलीज लांघे और इस आंदोलन में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करें, ताकि आने वाली पीढ़ि गुलाम भारत में सांस न ले।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है