Covid-19 Update

2,18,000
मामले (हिमाचल)
2,12,572
मरीज ठीक हुए
3,646
मौत
33,617,100
मामले (भारत)
231,605,504
मामले (दुनिया)

Himachal में अगले माह में क्रियान्वित होगी #Sports_Policy, संघों, खिलाड़ियों के सुझावों को तरजीह

ग्रामीण स्तर पर मूलभूत सुविधाएं तथा बेहतर प्रशिक्षण पर रहेगा विशेष फोक्स

Himachal में अगले माह में क्रियान्वित होगी #Sports_Policy, संघों, खिलाड़ियों के सुझावों को तरजीह

- Advertisement -

धर्मशाला। राज्य में खेल नीति दिसंबर माह में तैयार हो जाएगी इसके निर्धारण में हिमाचल (Himachal) के उत्कृष्ट खिलाड़ियों तथा खेल संघों के पदाधिकारियों के सुझावों की तरजीह दी जाएगी ताकि हिमाचल में खेलों का स्तर बेहतर हो सके और खिलाड़ियों को देश तथा दुनिया में भी अपनी प्रतिभा दिखाने के अवसर मिल सकें। यह उद्गार वन एवं युवा खेल सेवाएं मंत्री राकेश पठानिया (Rakesh Pathania) ने धर्मशाला के मिनी सचिवालय में खेल नीति के संशोधित प्रारूप को लेकर खेल संघों के पदाधिकारियों एवं खिलाड़ियों के साथ आयोजित एक दिवसीय वर्कशॉप की अध्यक्षता करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि खेल नीति (Sports Policy) निर्धारण में खेल संघों तथा खिलाड़ियों से लिखित तौर पर प्राप्त सुझावों को शामिल किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:  Chamba: पुखरी में बनेगा भव्य खेल Stadium, अव्वल खिलाड़ियों को मिलेगी निशुल्क Hostel सुविधा

राकेश पठानिया ने कहा कि खेल नीति निर्धारण में खेलों के प्रति युवाओं में दिलचस्पी पैदा करने, ग्रामीण स्तर तक खेलों के लिए आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने, खिलाड़ियों के लिए बेहतर प्रशिक्षण की व्यवस्था, खिलाड़ियों के लिए प्रोत्साहन राशि इत्यादि पर फोक्स किया जाएगा। उन्होंने कहा कि खेल नीति का प्रारूप तैयार करने के लिए इसी माह विभिन्न खेल संघों के साथ शिमला, मंडी, हमीरपुर, ऊना, बिलासपुर, नुरपुर में आवश्यक बैठकें भी आयोजित की जाएंगी, ताकि खेल नीति में हर पहलु का ध्यान रखा जा सके।

 

 

प्रदेश के हर विधानसभा क्षेत्र में बनेंगे दो दो आउटडोर स्टेडियम

पठानिया ने कहा कि राज्य के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में चरणबद्व तरीके से दो-दो आउटडोर स्टेडियम (Outdoor stadium) निर्मित किए जाएंगे। इन खेल परिसरों में खिलाड़ियों के लिए बेहतर खेल सुविधाएं (Better sports facilities) भी प्रदान की जाएंगी, ताकि ग्रामीण स्तर की प्रतिभाओं को निखारा जा सके। राकेश पठानिया ने कहा कि मनरेगा के तहत भी खेल मैदान निर्मित करने के लिए पहल की गई है तथा उना जिला के बंगाणा में मनरेगा के सहयोग से पहला स्टेडियम तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि युवा सेवाएं खेल मंत्रालय द्वारा हिमाचल के लिए 15 फेबरिक स्टेडियम (Faberick Stadium) बनाने के लिए भी मंजूरी प्रदान की गई है। इन खेल परिसरों में बास्केटबाल, वालीबाल, बैडमिंटन, जूडो, बाक्सिंग इत्यादि के लिए सुविधा प्रदान की जाएगी।

हिमाचल का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ी किए सम्मानित

खेल मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने युवा शक्ति को खेलों एवं सामाजिक सेवाओं से जोड़कर राष्ट्र निर्माण में भागीदार बनाया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में युवाओं को विभिन्न खेलों के लिए मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने की दिशा में कारगर कदम उठाए हैं जिसके चलते ही राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश के खिलाड़ियों का प्रदर्शन बेहतर हुआ है। इस अवसर पर खेल मंत्री ने खेलों में हिमाचल का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ियों को भी सम्मानित किया जिसमें ओलंपियन विजय थापा, शूटर विजय कुमार, धावक सुमन रावत, रमेश पठानिया शामिल हैं।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है