Covid-19 Update

2,18,314
मामले (हिमाचल)
2,12,899
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,678,119
मामले (भारत)
232,488,605
मामले (दुनिया)

बेटी के जन्म लेते ही कर दिया था बाप ने कत्ल, गांववाले राखी से मोड़ बैठे मुंह

बेटी के जन्म लेते ही कर दिया था बाप ने कत्ल, गांववाले राखी से मोड़ बैठे मुंह

- Advertisement -

वीरेंद्र भारद्वाज/ मंडी। जिला मुख्यालय से आठ किमी की दूरी पर बसे नसलोह गांव में इस बार रक्षाबंधन (Rakshabandhan) का त्योहार नहीं मनाया गया। कारण, तीन दिन पहले गांव के एक बाप द्वारा अपनी एक दिन की नवजात की हत्या( Murder) करना। गांव के लोग इस घटना से इतने आहत हैं कि उन्होंने इस बार रक्षाबंधन का त्योहार ना मनाकर उस मासूम को श्रद्धांजलि दी जो अपनी बाप की क्रूरता के कारण पैदा होते ही मौत के आगोश में समा गई थी। गांव के लोग एक स्थान पर इकट्ठा हुए और दो मिनट का मौन रखकर मासूम को श्रद्धांजलि दी।

ये भी पढ़ेः Mandi: बेटे की थी चाह, हो गई बेटी- बाप ने मौत के घाट उतारी एक दिन की बच्ची

स्वास्थ्य विभाग कटौला के स्वास्थ्य शिक्षक राकेश यादव और स्थानीय पंचायत के वॉर्ड सदस्य राकेश कुमार सहित आंगनबाडी कार्यकर्ता और आशा वर्कर भी इस मौके पर मौजूद रही। वॉर्ड सदस्य राकेश कुमार ने बताया कि इस जघन्य अपराध से गांव का नाम बदनाम हुआ है लेकिन आज गांव के लोग यह संदेश देना चाहते हैं कि एक व्यक्ति के कारनामे का दोष सभी को नहीं दिया जा सकता। उन्होंने कहा कि गांव के लोग बेटियों के प्रति पूरा आदर सम्मान रखते हैं। गांव में जो क्रूरतापूर्वक घटना घटी है उसके चलते गांव के लोगों ने इस बार रक्षा बंधन का त्योहार नहीं मनाया और यह संदेश देने का प्रयास किया कि अगर बेटियां ही नहीं रहेंगी तो फिर भविष्य में किससे राखी बंधवाओगे। बता दें कि 29 और 30 जुलाई की रात को गांव की एक महिला ने घर पर बेटी को जन्म दिया। लेकिन उसके पति ने उस नवजात को मौत के घाट उतारकर दफना दिया। उसने यह सिर्फ इसलिए किया क्योंकि उसके घर बेटी ने जन्म लिया था। आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group  

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है