Covid-19 Update

2,18,000
मामले (हिमाचल)
2,12,572
मरीज ठीक हुए
3,646
मौत
33,624,419
मामले (भारत)
232,000,738
मामले (दुनिया)

J&K में BJP नेताओं पर हो रहे हमलों के बीच कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाने श्रीनगर पहुंचे राम माधव

J&K में BJP नेताओं पर हो रहे हमलों के बीच कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाने श्रीनगर पहुंचे राम माधव

- Advertisement -

श्रीनगर। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में बीजेपी (BJP) से जुड़े नेताओं और कार्यकर्ताओं पर हो रहे आतंकी हमलों के बाद उत्पन स्थिति और पंचो और सरपंचों के साथ-साथ कार्यकर्ताओं की सुरक्षा की समीक्षा करने के लिए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव (Ram Madhav) गुरुवार को कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पर श्रीनगर पहुंचे। अपने इस दौरे के दौरान राम माधव कश्मीर में कार्यकर्ताओं की सुरक्षा के प्रबंधों का जायजा लेने के साथ पार्टी गतिविधियों को तेजी देंगे। एक माह के दौरान उनका यह दूसरा दौरा है, जिसमें वह कश्मीर में बीजेपी के नेताओं के साथ मुलाकात करने वाले हैं।

जानें क्या हैं राम माधव के इस दौरे के मायने

जम्मू कश्मीर में केंद्र सरकार ने कोर्ट के आदेश के बाद राजनितिक दलों को अपनी गतिविधियां शुरू करने की अनुमति दी है। कश्मीर में बीजेपी के मीडिया सचिव अल्ताफ ठाकुर ने बताया कि राम माधव दिल्ली से सुबह साढ़े नौ बजे के करीब श्रीनगर पहुंचे गए थे। वह दोपहर बाद पार्टी नेताओं से बैठकें कर कश्मीर में पार्टी गतिविधियों समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा करेंगे। कश्मीर के सियासी हालात, पार्टी की गतिविधियों को तेजी देने के लिए उठाए जा रहे कदमों पर नेताओं से चर्चा करने के बाद राम माधव श़ुक्रवार को दिल्ली लौट जाएंगे। इस दौरे को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं क्योंकि इन दिनों एडवाइजरी कौसिंल तथा उपराज्यपाल के सलाहकार बनाने की भी चर्चा है।

यह भी पढ़ें: Army Recruitment: प्रशिक्षण केंद्रों में भेजे जाएंगे लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण उम्मीदवार

गौरतलब है कि 22 अगस्त को श्रीनगर में नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष डॉ फारूक अब्दुल्लाह के घर पर हुई बैठक में आने वाले गुप्कार डिक्लेरेशन जिसमें बीजेपी को छोड़ बाकि सभी दलों ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा और धारा-370 और 35A को वापस करने के साथ साथ राज्य बनाने की बात कही गई, इस पर भी वो पार्टी नेताओं के साथ चर्चा करेंगे। बता दें कि इससे पहले 8 जुलाई को राम माधव कश्मीर आए थे। उस समय वह वसीम बारी की हत्या के बाद उनके परिजन के साथ मिले थे। इसके अलावा कश्मीर में नेताओं के साथ बैठक की गई थी। एक माह में दूसरे दौरे को लेकर प्रदेश के नेताओं में चर्चा शुरु हो गई है क्योंकि आने वाले दिनों में प्रदेश में बदलाव होने वाले हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है