Covid-19 Update

2,23,145
मामले (हिमाचल)
2,17,645
मरीज ठीक हुए
3,723
मौत
34,213,644
मामले (भारत)
245,086,616
मामले (दुनिया)

108 एकड़ में होगा राम मंदिर का विस्तार, राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने खरीदी 7,285 वर्ग फुट जमीन

14,30,195 वर्ग फुट जमीन और खरीदने की तैयारी कर रहा ट्रस्ट

108 एकड़ में होगा राम मंदिर का विस्तार, राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने खरीदी 7,285 वर्ग फुट जमीन

- Advertisement -

लखनऊ। अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर को लेकर हर देशवासी उत्सुक है। राम भक्तों के लिए एक औऱ अच्छी खबर है कि इस राम मंदिर (Ram Mandir) की भव्यता औऱ बढ़ने वाली है। य़े मंदिर 70 एकड़ नहीं बल्कि 108 एकड़ में बनने वाला है। ‘राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ ने राम जन्मभूमि परिसर के पास 7,285 वर्ग फुट जमीन खरीदी है। इसके बारे में ट्रस्ट के एक अधिकारी ने जानकारी दी है। अधिकारी ने बताया कि उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में भव्य मंदिर का निर्माण कर रहे ट्रस्ट ने 7,285 वर्ग फुट जमीन की खरीद के लिए 1,373 रुपए प्रति वर्ग फुट की दर से एक करोड़ रुपए का भुगतान किया है।

यह भी पढ़ें: अरविंद केजरीवाल ने ली Covid Vaccine की पहली डोज, माता-पिता को भी लगवाया टीका

न्यासी अनिल मिश्रा ने बताया कि हमने यह जमीन खरीदी है क्योंकि राम मंदिर निर्माण के लिए हमें और जगह चाहिए थी। ट्रस्ट द्वारा खरीदी गई यह जमीन (Land) अशरफी भवन के पास स्थित है। फैजाबाद के उप-पंजीयक एसबी सिंह ने बताया कि जमीन के मालिक दीप नरैन ने ट्रस्ट के सचिव चंपत राय के पक्ष में 7,285 वर्ग फुट भूमि की रजिस्ट्री के दस्तावेजों पर 20 फरवरी को हस्ताक्षर किए। मिश्रा और अपना दल के विधायक इंद्र प्रताप तिवारी ने गवाह के तौर पर दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किए।

यह भी पढ़ें:Jharkhand में आईईडी धमाका : दो जवान शहीद, तीन घायल

फैजाबाद के उप-पंजीयक एसबी सिंह के कार्यालय में ही यह रजिस्ट्री की गई। सूत्रों के अनुसार, ट्रस्ट अभी और जमीन खरीदने की योजना बना रही है। इसे लिए राम मंदिर परिसर के पास स्थित मंदिरों, मकानों और खाली मैदानों के मालिकों से इस संबंध में बातचीत जारी है। सूत्रों ने बताया कि ट्रस्ट विस्तारित भव्य मंदिर परिसर का निर्माण 108 एकड़ में करना चाहता है और इसके लिए उसे अभी 14,30,195 वर्ग फुट जमीन और खरीदनी होगी। मुख्य मंदिर का निर्माण पांच एकड़ जमीन पर किया जाएगा और बाकी जमीन पर संग्रहालय और पुस्तकालय आदि जैसे केन्द्र बनाए जाएंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है