Covid-19 Update

2,18,314
मामले (हिमाचल)
2,12,899
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,678,119
मामले (भारत)
232,488,605
मामले (दुनिया)

राम मंदिर ट्रस्ट को सरकार से मिला एक रुपए का दान, मंदिर निर्माण के लिए बने ये 9 नियम

राम मंदिर ट्रस्ट को सरकार से मिला एक रुपए का दान, मंदिर निर्माण के लिए बने ये 9 नियम

- Advertisement -

नई दिल्ली। राम मंदिर (Ram mandir)के लिए ट्रस्ट (Trust)का गठन होने के बाद इसे पहला दान भी मिल चुका है। खबर है कि केंद्र सरकार ने राम मंदिर ट्रस्ट के लिए एक रुपए नकद का दान किया है। बता दें. लोकसभा (Loksabha) में पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार को ही राम मंदिर ट्रस्ट का ऐलान किया है, इस ट्रस्ट के पास राम मंदिर से जुड़े सभी मामले देखने की स्वतंत्रता होगी। इस ट्रस्ट का नाम श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र (Shriram janmabhoomi pilgrimage area) होगा। इस ट्रस्ट में 15 सदस्य होंगे जिसमे से एक दलित समाज का होगा। इसकी घोषणा बुधवार को गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने की है।

केंद्र सरकार ने ट्रस्ट लिए बनाए ये 9 नियम

  • श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की पहली बैठक में ट्रस्ट के स्थाई कार्यालय पर चर्चा की जाएगी। ट्रस्ट R-20, ग्रेटर कैलाश पार्ट-1 के पते से ही काम करेगा। यहीं राम मंदिर निर्माण की रूप रेखा और आगे के कामों पर चर्चा होगी। मंदिर निर्माण में आने वाली सभी बाधाओं को दूर करने का काम ट्रस्ट करेगा।
  • केंद्र सरकार ट्रस्ट के कामकाज में कोई दखल नहीं देगी। ट्रस्ट राम मंदिर निर्माण से जुड़े हर फैसले लेने के लिए पूरी तरह स्वतंत्र होगा।
  • श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के ट्रस्टी कानूनी रूप से ट्रस्ट श्रद्धालुओं की सुविधाओं और मंदिर निर्माण के लिए किसी भी व्यक्ति, संस्था से दान, अनुदान, अचल संपत्ति और सहायता स्वीकार कर सकते हैं। साथ ही जरूरत पड़ने पर लोन भी लिया जा सकता है।
  • राम मंदिर ट्रस्ट के सभी ट्रस्टी बोर्ड किसी एक ट्रस्टी को प्रेसिडेंट- मैनेजिंग ट्रस्टी नियुक्त करेंगे, जो सभी बैठकों की अध्यक्षता करेगा।
  • राम मंदिर निर्माण के लिए मौजूदा धन को लेकर ट्रस्ट निवेश पर फैसला लेगा। मंदिर के लिए निवेश ट्रस्ट के नाम पर ही होंगे।
  • राम मंदिर के लिए मिले दान का इस्तेमाल सिर्फ ट्रस्ट के कामों के लिए किया जाएगा।
  • राम मंदिर ट्रस्ट से जुड़ी हुई अचल संपत्ति के बेचने का अधिकार ट्रस्ट के पास नहीं होगा।
  • राम मंदिर के लिए मिलने वाले दान और खर्च का हिसाब ट्रस्ट को रखना होगा। इसके लिए एक बैलेंस शीट बनाई जाएगी।
  • राममंदिर ट्रस्ट के सदस्यों को वेतन नहीं दिया जाएगा। हालांकि, लेकिन सफर के दौरान हुए खर्च का भुगतान ट्रस्ट खुद करेगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है