Covid-19 Update

2,01,054
मामले (हिमाचल)
1,95,598
मरीज ठीक हुए
3,446
मौत
30,082,778
मामले (भारत)
180,423,381
मामले (दुनिया)
×

Ranjit Ranjan @ शाह के बेटे की Company के Turnover की Modi करवाए जांच

Ranjit Ranjan @ शाह के बेटे की Company के Turnover की Modi करवाए जांच

- Advertisement -

कांग्रेस का वारः बीजेपी के सत्ता में आने से पहले घाटे में चल रही थी कंपनी

लोकिन्दर बेक्टा/शिमला। कांग्रेस ने आज बीजेपी पर बड़ा हमला बोला है। कांग्रेस ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे की कंपनी के टर्नओवर के मामले को उठाते हुए पीएम मोदी से पूछा कि अब वे इस मामले पर चुप क्यों हैं। अब सीबीआई, आईटी और ईडी चुप क्यों है। कांग्रेस की हिमाचल सह प्रभारी रंजीत रंजन कहा है कि एक तरफ पीएम मोदी कहते हैं कि वे न खाएंगे और न खाने देंगे तो ऐसे में जो अमित शाह के बेटे की कंपनी में हुआ है, उसकी जांच करवाने में देरी क्यों की जा रही है। पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट के सीटिंग जज से इसकी जांच करवाए जाने की मांग की है।

  • मोदी सरकार आते ही बढ़ने लगा कंपनी का टर्नओवर
  • कांग्रेस पार्टी इसे हिमाचल सहित पूरे देश में बनाएगी मुद्दा

रंजन ने यहां प्रेस कांफ्रेस में कहा कि एक वेबसाइट पर अमित शाह के बेटी की कंपनी को लेकर बात सामने आई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसी को दोष नहीं दे रही है, जो बात सामने आई है, उसे लेकर सवाल उठे हैं और उसका जवाब बीजेपी और पीएम मोदी को देना चाहिए। उन्होंने कहा कि अमित शाह के बेटे की एक कंपनी पहले तो घाटे में चलती है, लेकिन जैसे ही केंद्र में बीजेपी की सरकार बनने लगती है, उसका लाभ बढ़ने लगता है और फिर इस कंपनी को लोन भी दिया जाता है और जो वापस नहीं होता है। उनका कहना था कि उनकी कंपनी पहले घाटे में थी।


इसके बाद इसका टर्नओवर 80 करोड़ हो गया और फिर कुछ ही महीनों में दोबारा कंपनी घाटे में चली गई और फिर कंपनी बंद हो गई। उन्होंने कहा कि यह हैरानी की बात है और जो सबसे बड़ी बात है वह यह है कि कंपनी के टर्नओवर में जो बढ़ोतरी हुई, वह करीब 16 हजार गुणा हुई है और वह भी एक साल में हुई है।

इस सारे मामले की पीएम मोदी करवाए जांच

रंजन ने कहा कि अमित शाह के बेटे को रतलाम में 2.1 मेगावाट का पवन ऊर्जा का प्रोजेक्ट अलाट किया गया है। लेकिन बताया जाता है कि वह प्रोजेक्ट लगा भी नहीं है। वहीं, उन्होंने पूछा कि जो कंपनी इस पवन ऊर्जा में एक्सपर्ट नहीं उसे यह प्रोजेक्ट क्यों दिया गया। उन्होंने मांग की कि इस सारे मामले की पीएम मोदी जांच करवाए और सच क्या है उसकी जानकारी दें। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी कहते हैं कि वे न खाएंगे और न खाने देंगे। ऐसे में अब उन्हें इसका जवाब देना चाहिए और असलियत क्या है, उसे बताना चाहिए। रंजीत रंजन ने कहा कि बीजेपी के कई राष्ट्रीय अध्यक्षों पर वित्तीय अनियमितता के आरोप में लगे हैं।

उन्होंने कहा कि आडवाणी, बंगारू लक्ष्मण और नितिन गडकरी को इस कारण अध्यक्ष पद छोड़ना पड़ा था। उन्होंने सवाल किया कि केंद्र की बीजेपी सरकार का क्या स्टार्ट अप है जो सवाल खड़े कर रहा है। उन्होंने कहा कि यह बहुत बड़ा मुद्दा है और पार्टी इसे हिमाचल ही नहीं पूरे देश में उठा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में विधानसभा में यह मुद्दा होगा। इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू, आईपीएच मंत्री विद्या स्टोक्स, महासचिव नरेश चौहान समेत कई नेता मौजूद थे। इसके बाद सीएम वीरभद्र सिंह भी वहां पहुंचे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है