Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

हिमाचल: रेप कर अश्लील वीडियो बनाता था फर्जी SI, हुई 10 साल की कैद

हिमाचल: रेप कर अश्लील वीडियो बनाता था फर्जी SI, हुई 10 साल की कैद

- Advertisement -

पालापमुर। खुद को दिल्ली पुलिस में एसआइ (Delhi Police SI) पद पर तैनात होने के बहाने कॉलेज पढ़ने वाली युवती से दोस्ती कर उसे नशीले पदार्थ खिलाकर दुष्कर्म (Rape) करने व अश्लील वीडियो वायरल (Video Viral) करने के दोषी को न्यायालय ने 10 साल कैद (10 years of imprisonment) व दो लाख पांच हजार रुपए जुर्माना की सजा सुनाई है। मामले की जानकारी देते हुए जिला जस्टिस राजेश वर्मा ने बताया कि इस संबंध में पीड़ित युवती ने 24 नवंबर 2016 को पालमपुर थाना में शिकायत दर्ज करवाई थी। अपनी शिकायत में युवती ने कहा कि वह पालमपुर के पास एक कॉलेज में प्रथम वर्ष की छात्रा है।


हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Chennel… 


जब भी वे सुबह कॉलेज जाती तो आशीष कुमार निवासी गंघण मरेरा जयसिंहपुर उसका पीछा करता था। इसके बाद उसने उसकी सहेली के माध्यम से उससे बात की। आशीष ने बताया कि वे दिल्ली पुलिस ने एसआइ पद पर तैनात है और पिछले कुछ समय से वह छुट्टी पर आया है। जिसके बाद दोनों की दोस्ती हो गई। एक दिन आशीष ने उसे फोन किया और पालमपुर आने को कहा। जब युवती पालमपुर पहुंची तो आशीष ने कहा कि वे उसके साथ अपने जीवन के बारे में बहुत महत्वपूर्ण बात करना चाहता है और उसे लेकर शहर के एक होटल में ले गया। होटल में पहुंचकर आशीष ने उसे पानी में कुछ मिलाकर पिला दिया और युवती बेहोश हो गई। बेहोशी की हालत में आशीष ने युवती के साथ दुष्कर्म किया और उसकी वीडियो भी बनाई।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें… 

 

वीडियो बनाने के बाद आशीष उसे ब्लैकमेल करने लगा कि अगर उसने 20 हजार रुपए नहीं दिए तो वे वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर देगा। पैसे न देने पर उसने वीडियो वायरल कर दी। पीड़िता की शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपित आशीष को गिरफ्तार किया और पूछताछ में पता चला कि दिल्ली पुलिस में एसआइ होने की बात उसने झूठ बताई थी। पुलिस जांच के बाद अतिरिक्त सत्र एवं अतिरिक्त जिला न्यायधीश-3 रणजीत सिंह ठाकुर की अदालत में पहुंचे मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से केस की पैरवी जिला उप-न्यायवादी एनएल शर्मा ने की। अभियोजन पक्ष की ओर न्यायालय में कुल 17 गवाह पेश किए गए। गवाहों की ब्यानों के आधार पर जस्टिस रणजीत सिंह ठाकुर ने दोषी आशीष को 10 साल सश्रम कारवास व दो लाख पांच हजार रुपये जुर्माना की सजा सुनाई। जुर्माना अदा न करने की सूरत में दोषी को दो साल अतिरिक्त कारवास की सजा भुगतनी होगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है