Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

छलाल के जंगल में रेव Party, सजा नशीला कारोबार!

छलाल के जंगल में रेव Party, सजा नशीला कारोबार!

- Advertisement -

Rave Party : कुल्लू। चरस के लिए प्रसिद्ध घाटी मणिकर्ण में अब विदेशियों को लुभाने के लिए रेव, फुलमून व हॉफमून पार्टियों के आयोजन का सिलसिला शुरू हो गया है। सूत्र बताते हैं कि मणिकर्ण घाटी के छलाल के जंगल में इस तरह की पार्टी का आयोजन किया गया है। अब दूसरी पार्टी की तैयारियां भी शुरू हो चुकी हैं।

हालांकि पुलिस को इसकी भनक लग चुकी है, ऐसे में अब पार्टी का स्थगित होने का अंदेशा है। यही नहीं छलाल के जंगल में हुई इस पार्टी में नशे का कारोबार पूरी तरह से फला-फूला है और रातभर पार्टी का आयोजन होता रहा। हालांकि पुलिस को खबर लग चुकी है और जांच में भी जुट गई है, जिसके चलते चरस माफिया में हड़कंप मच गया है। उधर, सूत्रों के अनुसार इससे पहले एक फुलमून पार्टी हो चुकी है और अगले दिन फिर से दूसरी पार्टी का आयोजन की तैयारियां भी पूरी कर ली गई हैं। अब देखना यह है कि इस फुलमून पार्टी के बाद कोई और पार्टी भी होती है या फिर नशीले पदार्थों के इस कारोबार में संलिप्त लोगों के हौसले पश्त हुए हैं।


RAVE Party : रात के अंधेरे में जंगल में सजा नशे व फुहड़ता का कारोबार

गौर रहे कि विदेशी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए व नशे के कारोबार को चमकाने के लिए फुलमून पार्टी का आयोजन होता रहा है। इस तरह की पार्टियों में सबसे पहले विदेशी माफिया सक्रिय है। विदेशियों से सीख लेकर स्थानीय कुछ संलिप्त लोगों ने भी इस तरह की पार्टियों के आयोजन शुरू किए और यह पार्टियां पूरी तरह से सफल भी हुई हैं। मीडिया की नजर में आने के बाद इस तरह की पार्टियों का जब खुलासा हुआ तो पुलिस भी सतर्क हुई है।

सनद रहे कि फुलमून पार्टी में विदेशी पर्यटकों को मैसेज भेजकर आमंत्रित किया जाता है और पूरे प्रदेश में आए विदेशी पर्यटकों को जब यह गुप्त मैसेज पहुंच जाता है तो वे उस घाटी की ओर रुख कर लेते हैं और इस तरह की पार्टी में शरीक होते हैं। बाकायदा इस तरह की पार्टियों में पर्यटकों से एंट्री फीस 1000 से 2000 तक ली जाती है। उसके बाद पार्टी में प्रवेश करने के बाद अंदर नशे का हर साजो सामान मुहैया होता है। उसके दाम अलग से मनचाहे लिए जाते हैं।

अवैध पार्टियां बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएंगी : एसपी कुल्लू

बताया जा रहा है कि सोमवार को मणिकर्ण घाटी के एक अलग जंगल में इस तरह की पार्टी की तैयारियां की जा चुकी हैं। लेकिन छलाल में आयोजित इस पार्टी में पुलिस की दबिश या पुलिस को पता लगने के बाद पार्टी का स्थान व कार्यक्रम स्थगित होने की आशंका है।

बहरहाल, घाटी में एक बार फिर से विदेशी पर्यटकों को लुभाने के लिए इस तरह की पार्टियों का शुभारंभ फिर से हो उठा है। अब देखना यह है कि पुलिस व प्रशासन इस तरह की पार्टियों को लगाम लगाने में कहां तक सफल रहती है। एसपी कुल्लू पदम चंद का कहना है कि इस तरह की अवैध पार्टियां बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। अभी तक मेरे संज्ञान में कोई मामला नहीं है यदि ऐसा हुआ है तो दोषियों को बक्शा नहीं जाएगा।

BJP की दहाड़ः नशा कारोबारियों को संरक्षण दे रही Govt

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है