Expand

रवि का आरोप, बिना पेपर दिए बन गया बाबू

रवि का आरोप, बिना पेपर दिए बन गया बाबू

- Advertisement -

धर्मशाला। भर्तियों और करोड़ों रुपयों के लोन देने के मामले में देहरा के विधायक रविंद्र रवि ने प्रदेश के दो सहकारी बैंकों को आड़े हाथ लिया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने सहकारी बैंकों में अपने चहेतों के बच्चों को भर्ती किया है। वहीं, एक मामला ऐसा भी सामने आया जिसमें अभ्यर्थी ने पेपर दिया ही नहीं और आज वह बैंक में बतौर क्लर्क अपनी सेवाएं भी दे रहा है। लोन प्रक्रिया पर सवाल उठाते हुए कहा कि जिस पर पंजाब की फर्म पर पहले से 420 का केस चल रहा है, सीबीआई भी जांच कर रही है फिर ऐसी फर्म को 19 करोड़ रुपए का लोन क्यों दिया गया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार आते ही इस पूरे प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच करवाई जाएगी और दोषियों को सलाखों के पीछे भेजा जाएगा। धर्मशाला में पत्रकारों से बातचीत करते हुए देहरा के विधायक रविंद्र सिंह रवि ने कहा कि पहले प्रदेश में वन माफिया, भू-माफिया, खनन माफिया हावी था, लेकिन अब शराब माफिया पूरी तरह हावी हो चुका है। प्रदेश के इतिहास में यह पहली बार हुआ है कि प्रदेश सरकार शराब बेचने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इस सरकार को विकास से कोई लेना देना नहीं है, बस भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया जा रहा है। रविंद्र रवि ने सीएम वीरभद्र सिंह से सवाल पूछा है कि जो लोग बरसों से शराब के होलसेल का काम कर रहे थे, सरकार ने उन लोगों से वर्ष 2016 की फीस लेने के बाद किन कारणों से चलते हुए कारोबार को बंद करवा दिया। उन्होंने कहा कि सरकार ने प्रदेश बेवरेजिस लिमिटेड के पूरे प्रदेश में मात्र तीन गोदाम बनाए हैं लेकिन यहां भी भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया जा रहा है।

ravinder-ravi-1उन्होंने कहा कि आबाकारी विभाग ने पहले से शराब के ठेकेदारों का महीने भर का कोटा फिक्स रखा है, लेकिन जब छोटे ठेकेदारों को शराब ही नहीं मिलेगी तो वह अपना कोटा कहां से पूरा करेंगे। रविंद्र रवि ने तल्ख अदांज में कहा कि प्रदेश सरकार ने शराब कोरबारियों को बर्बादी की कगार पर खड़ा कर दिया और अब इनकी अनदेखी की जा रही है। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में बाहरी राज्य से ब्लैक में शराब बेची जा रही है, लेकिन प्रदेश सरकार ने उस पर लगात लगाने के लिए क्या किया। उन्होंने कहा कि शराब के होलसेल कारोबारियों ने लाखों रुपए फीस सरकार को जमा करवाई है और उनके गोदामों में भी लाखों रुपयों का माल पड़ा है, जिसे एक्साइज विभाग ने सीज कर दिया है। उन्होंने कहा कि क्या सरकार इन लोगों को गोदामों का किराया देगी क्या सरकार इनके हुए नुकसान की भरपाई करेगी।

ravinder-ravi-2देहरा के विधायक रविंद्र सिंह रवि ने अवैध खनन मामले में भी प्रदेश सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ट्रैक्टर पर रेत बजरी ले जाने वालों पर कार्रवाई की जाती है, लेकिन ब्यास के किनारे भारी भरकम मशीनरी से खनन करने वालों को क्या सरकार ने लाइसेंस दिया है।
कांगड़ा, नगरोटा व शाहपुर भी होंगे स्मार्ट सिटी के अंदर
ठाकुर रविंद्र सिंह रवि ने शहरी विकास मंत्री सुधीर शर्मा को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि स्मार्ट सिटी में सुधीर धर्मशाला के कुछ गांवों को शामिल करने की बात कर रहे हैं, लेकिन असल में स्मार्ट सिटी का दायरे में कांगड़ा, नगरोटा और शाहपुर तक का क्षेत्र शामिल किया जाएगा। उन्होंने सुधीर शर्मा से भी सवाल किया कि सुधीर बताएं कि आखिर वह लोगों से इस बारे में क्यों छुपा रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है