Covid-19 Update

58,570
मामले (हिमाचल)
57,311
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,079,094
मामले (भारत)
113,988,846
मामले (दुनिया)

दिवालिएपन की कगार पर है अंबानी की यह कंपनी, जियो यूजर्स पर आफत के बादल

दिवालिएपन की कगार पर है अंबानी की यह कंपनी, जियो यूजर्स पर आफत के बादल

- Advertisement -

नई दिल्ली। अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशन दिवालिएपन की कगार पर है। कंपनी की वायरलेस सर्विस बंद होने के बाद अब बड़े भाई मुकेश अंबानी की कंपनी जियो इनफोकॉम के यूजर्स पर आफत के बादल मंडराने लगे हैं। अगर जियो RCom से देश के कुछ खास सर्किलों में स्पेक्ट्रम खरीदने में नाकाम रही तो जियो यूजर्स की परेशानियां बढ़ सकती हैं।

एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, अभी मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो इनफोकॉम प्रीमियम 800MHz बैंड में पांच यूनिट्स स्पेक्ट्रम मिलाने के लिए रिलायंस कम्युनिकेशन पर डिपेंडेंट हैं। ये स्पेक्ट्रम आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तामिलनाडु और केरल में 4G LTE सर्विस के लिए बेसिक है। इनमें से हर सर्कल में रिलायंस जियो के पास 800MHz बैंड के अंतर्गत 4G एयरवेव्स के 3।8 युनिट्स है, लेकिन कंपनी बेहतर 4G LTE कनेक्टिविटी के लिए RCom पर डिपेंडेंट है।

4G LTE कवरेज पर पड़ेगा असर

दिल्ली, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में अगर रिलायंस जियो और रिलायंस कम्युनिकेशन के बीच स्पेक्ट्रम को लेकर ये डील नहीं हुई तो दोनों ही कंपनियों को नुकसान होगा। इस डील से 4G LTE कवरेज और कनेक्विटी बेहतर रहेगी, वर्ना ओवरऑल क्वॉलिटी में फर्क पड़ेगा। इनमें मुंबई, गुजरात, असम और नॉर्थ ईस्ट शामिल हैं। अगर अनिल अंबानी की कंपनी RCom दिवालियापन की प्रोसीडिंग में जाती है तो जियो के साथ RCom स्पेक्ट्रम शेयर नहीं कर पाएगा। RCom ने पहले ही अपनी वायरलेस सर्विस बंद कर दी है।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है