Covid-19 Update

1,98,551
मामले (हिमाचल)
1,90,377
मरीज ठीक हुए
3,375
मौत
29,505,835
मामले (भारत)
176,585,538
मामले (दुनिया)
×

Corona से लड़ रही दुनिया के लिए खुशखबरी, रेमडेसिविर दवा से कोविड-19 के रोगियों की रिकवरी तेज़ हुई

Corona से लड़ रही दुनिया के लिए खुशखबरी, रेमडेसिविर दवा से कोविड-19 के रोगियों की रिकवरी तेज़ हुई

- Advertisement -

नई दिल्ली। चीन के वुहान से उपजे कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर पूरी दुनिया में जारी है। इस सब के बीच कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित राष्ट्र अमेरिका से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल यहां पर Remdesivir दवा ने मरीजों पर जादुई असर दिखा शुरू कर दिया है। अमेरिका के संक्रामक बीमारी विभाग के अधिकारी एंथनी फॉसी ने कहा है कि गिलिड की एक्सपेरिमेंटल दवा रेमडेसिविर का कोविड-19 रोगियों की रिकवरी पर ‘स्पष्ट रूप से सकारात्मक प्रभाव’ पड़ा है। सरकार द्वारा 1,063 रोगियों पर किए ट्रायल के शुरुआती आंकड़ों से पता चला है कि जिन रोगियों को रेमडेसिविर दी गई थी वे 11 दिन में ठीक हो गए।

उन्होंने उम्मीद जताई है कि यह दवा बढ़ती मौतों की दर को रोक सकती है। अमेरिका का फूड ड्रग एंड एडमिनिस्ट्रेशन (फडीए) विभाग जल्द ही इसके इस्तेमाल की घोषणा कर सकता है। अमेरिकी वैज्ञानिकों की इस घोषणा के बाद अब इस महामारी से जंग में दुनियाभर में उम्‍मीदें काफी बढ़ गई है। इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन को कोरोना में कारगर दवा बताया गया था। हालांकि, तब डॉक्टर फॉसी ने इसे खारिज कर दिया था। अब फॉसी के उम्मीद जताने के बाद माना जा रहा है कि यह दवा वाकई में कारगर हो सकती है।


इससे पहले रेमडेसिविर दवा इबोला के ट्रायल के दौरान फेल हो गई थी। यही नहीं डब्‍ल्‍यूएचओ ने भी अपने एक सीमित अध्‍ययन के बाद कहा था कि वुहान में इस दवा का मरीजों पर सीमित असर पड़ा था। वुहान में ही कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था। उधर, रेमडेसिविर दवा पर हुए इस ताजा शोध पर डब्‍ल्‍यूएचओ के वरिष्‍ठ अधिकारी माइकल रेयान कोई भी टिप्‍पणी करने से इनकार कर दिया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है