Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

प्रश्नकालः क्लस्टर विवि Mandi में अगले साल से शुरू होंगी नियमित कक्षाएं

प्रश्नकालः क्लस्टर विवि Mandi में अगले साल से शुरू होंगी नियमित कक्षाएं

- Advertisement -

शिमला। सरदार वल्लभ भाई पटेल क्लस्टर विवि मंडी (Mandi) में अगले साल से नियमित कक्षाएं शुरू होंगी। यह बात शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने आज विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान मंडी के विधायक अनिल शर्मा के सवाल के जवाब में कही। उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल राजकीय महाविद्यालय मंडी को क्लस्टर विवि का दर्जा देने का काम अंतिम चरण में है और इसके तुरंत बाद इसमें नियमित कक्षाएं शुरू कर दी जाएंगी। उन्होंने यह भी कहा कि इस विवि को एफिलिएटिंग विवि बनाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: ब्रेकिंगः PET के पदों को बैकलॉग भरने को लेकर सदन में क्या बोली सरकार-जानिए

शिक्षा मंत्री ने कहा कि इस विवि के भवन निर्माण का कार्य तेज गति से चल रहा है और यह 30 फीसदी पूरा कर लिया गया है। इस विवि से संबद्ध डिग्री कालेज बासा, नारला और सुंदरनगर कॉलेज में भी भवन निर्माण कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान के दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि क्लस्टर विवि को अन्य विषयों के अतिरिक्त इंटर डिस्पलेनरी विषयों को भी आरंभ करना चाहिए, लेकिन इसके विषय में कोई समय सीमा व क्रम नहीं दिया गया है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि इंटर डिस्पलेनरी विषयों को प्रारंभ करने से पहले बेसिक साइंसिज और ह्यूमेनिटीज के विभाग स्थापित किए जा रहे हैं। इस संबंध में कांग्रेस विधायक सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने भी अपने सुझाव दिए।


बीजेपी सदस्य कमलेश कुमारी के सवाल पर सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान भोरंज उपमंडल में लगभग सभी विभागों के मंडलीय कार्यालय काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस विधानसभा क्षेत्र की कुल 44 पंचायतों में से कुछ पंचायतें दूसरे उपमंडलों में स्थित विभागीय कार्यालयों के तहत अपनी भौगोलिक स्थिति के कारण पड़ती है। उन्होंने कहा कि इन पंचायतों को नजदीकी उपमंडल कार्यालयों से जोड़ने पर सरकार विचार करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश में ब्लाक, पंचायतों, पटवार सर्कल या कानूनगो सर्कल का पुनःसीमांकन जनगणना 2021 का कार्य पूरा होने के बाद ही किया जाएगा।

विधायक विनोद कुमार के एक सवाल के जवाब में परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर ने कहा कि गोहर बस अड्डे के लिए 79 लाख और चैलचौक बस अड्डे के लिए 55 लाख रुपए का बजट में प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि इन दोनों बस अड्डों के लिए भूमि ट्रांसफर का काम पूरा होते ही इनका निर्माण कार्य आरंभ कर लिया जाएगा। कांग्रेस सदस्य सतपाल रायजादा के एक सवाल के जवाब में सीएम ने कहा कि ऊना जिले में चल रहे बंदोबस्त के कार्य को मार्च 2021 तक पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि 847 मुहालों में यह कार्य पूरा कर लिया गया है और अब सिर्फ 19 मुहालों में ही बंदोबस्त कार्य शेष है। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार इस बात का ध्यान रखेगी कि इस कार्य में लगे पटवारियों को ट्रांसफर ना किया जाए तथा लाल सिंगी गांव में भी बंदोबस्त कार्य समय पर पूरा हो। उन्होंने कहा कि यह गांव 1966 में पंजाब पुनर्गठन के बाद हिमाचल में शामिल हुआ था और इसका राजस्व रिकॉर्ड बहुत खराब हालत में था, जिस कारण बंदोबस्त के कार्य में देरी हुई।

 

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है