Covid-19 Update

58,508
मामले (हिमाचल)
57,286
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,063,038
मामले (भारत)
113,544,338
मामले (दुनिया)

Delhi Violence में जान गंवाने पुलिसकर्मी रतन लाल के परिजनों का धरना, शहीद का दर्जा देने की मांग

Delhi Violence में जान गंवाने पुलिसकर्मी रतन लाल के परिजनों का धरना, शहीद का दर्जा देने की मांग

- Advertisement -

नई दिल्ली। हिंसा में हेड कांस्टेबल रतन लाल की मौत के बाद उनके परिजन और ग्रामीणों ने उन्हें शहीद का दर्जा (Martyr status) देने की मांग को लेकर प्रदर्शन शुरू कर दिया है। रतन लाल राजस्थान के सीकर जिले के सदीनसर गांव के रहने वाले थे। बुधवार को सदीनसर में उनके परिजनों ने ग्रामीणों के साथ मिलकर धरना-प्रदर्शन (Protest) शुरू कर दिया है। इससे पहले इंडिया गेट पर मंगलवार रात 100 से ज्यादा लोगों ने मोमबत्ती जलाकर दिल्ली हिंसा में शहीद हुए हवलदार रतनलाल को श्रद्धांजलि दी।

यह भी पढ़ें: Trump-Modi का साझा ऐलान: दोनों देशों के बीच होगी बड़ी ट्रेड डील, डिफेंस डील फाइनल

 

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर Delhi के कई इलाकों में चल रहे विरोध-प्रदर्शन के बीच सोमवार को गोकुलपुरी इलाके में हुई हिंसा में रतन लाल की मौत हो गई थी। उनके परिवार में पत्नी व तीन बच्चे हैं। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की पत्नी को पत्र लिखकर संवेदना जताई है। शाह ने लिखा पूरे देश दुख की इस घड़ी में बहादुर पुलिसकर्मी के परिवार के साथ खड़ा है। शाह ने रतन लाल की पत्नी पूनम देवी को लिखे पत्र में कहा, आपके बहादुर पति निष्ठावान पुलिसकर्मी थे, जिन्होंने कड़ी चुनौतियों का सामना किया। एक सच्चे सैनिक की तरह उन्होंने देश के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया। मैं प्रार्थना करता हूं कि ईश्वर आपको इस दुख को सहने की शक्ति दे। पूरा देश आपके साथ है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है