Covid-19 Update

58,645
मामले (हिमाचल)
57,332
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,112,241
मामले (भारत)
114,689,260
मामले (दुनिया)

Republic Day @ राज्यपाल ने फहराया राष्ट्रध्वज, Ridge पर दिखी प्रदेश की संस्कृति की झलक

Republic Day @ राज्यपाल ने फहराया राष्ट्रध्वज, Ridge पर दिखी प्रदेश की संस्कृति की झलक

- Advertisement -

शिमला। राजधानी में गणतंत्र दिवस  के उपलक्ष्य में ऐतिहासिक रिज पर राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने राष्ट्रध्वज फहराया। उन्होंने सेना, पुलिस, एनसीसी, एनएसएस समेत अन्य टुकड़ियों की सलामी ली। शानदार परेड की शुरुआत 22 राजपूत रेजीमेंट से हुई। इसके बाद आईटीबीपी,  एसएसबी, उत्तराखंड पुलिस, राजपूत बटालियन का बैंड, हिमाचल पुलिस की महिला टुकड़ी, पुरुष,  ट्रैफिक विंग की टुकड़ी, हिमाचल पुलिस का बैंड, होमगार्ज, फायर ब्रिगेड, पूर्व सैनिक, एनसीसी की लड़कियों और लड़कों की टुकड़ी, एनएसएस की टुकड़ी, आपदा प्रबंधन का दस्ता, भारत स्काउट एंड गाइड, पर्वतारोही दल, पुलिस के खोजी कुत्ते परेड का हिस्सा बने।

जिला प्रशासन ने निकाली स्वच्छ भारत की झांकी

इसके बाद विभागों की झांकियां प्रदर्शित की गई। इनमें पर्यटन विभाग की झांकी में माता शिकारी देवी, पराशर झील, रोपवे को दिखाया गया। स्वास्थ्य विभाग की झांकी में बेटियों को महत्व देते हुए कन्या जन्मोत्सव मनाने का संदेश दिया गया। इसके बाद सोलन जिले का पंडवा नृत्य पेश किया गया। इसे शादी ब्याह के मौके पर पेश किया जाता है। उधर, वन विभाग की झांकी में ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क को दिखाया गया।  इसके बाद मंडी जिले की सराजी नाटी पेश की गई। उत्तर क्षेत्रीय सांस्कृतिक दल पटियाला ने राजस्थानी नृत्य पेश किया। बागवानी विभाग की झांकी में कृषक बागवानों की आय को डबल करने के लिए चलाई जा रही योजनाओं का जिक्र है। साथ ही शिमला जिले की नाटी पेश की गई। जिला प्रशासन शिमला की झांकी में स्वच्छ भारत मिशन के तहत किए गए कार्यों का उल्लेख किया गया। इसके बाद ऊना जिले का गिद्दा पेश किया गया।
कृषि विभाग की झांकी में फसल को दोगुना करने को उठाए जा रहे कदमों के साथ-साथ पॉलीहाउस का जिक्र है। इसके बाद शिक्षा विभाग की झांकी दिखाई गई और इसमें एसएसए द्वारा किए जा रहे कार्यों का उल्लेख किया गया है। इसके बाद सिरमौरी नाटी ने कार्यक्रम में समा बांधा। इस बीच, शुपालन विभाग की झांकी में बेसहारा पशुओं के रखरखाव के प्रति जागरुकता को दिखाया गया और इसमें गोमाता को बेसहारा न करने की अपील की गई। इसके बाद बिलासपुर का नृत्य पेश किया गया। हिमाचल पुलिस की झांकी में पुलिस के तकनीकी विंग की सेवाओं का उल्लेख किया गया। इसके बाद कांगड़ा जिले का झमाकड़ा पेश किया गया। उधर, फारेंसिक साइंस की झांकी में फारेंसिक साइंस के अपराधों की जांच में अहम रोल को दर्शाया गया है। इन झांकियों  के बाद चंबा का लोकनृत्य पेश किया गया।

नगर निगम शिमला की झांकीः कूड़े से कैसे बनाएं बिजली

राज्य बिजली बोर्ड की झांकी में गांवों में प्रभावी बिजली सप्लाई को दिखाया गया है। इसमें एलईडी का भी उल्लेख है। इसके बाद उत्तर क्षेत्रीय सांस्कृतिक दल पटियाला के कलाकारों ने उत्तर प्रदेश का मयूर नृत्य पेश किया। हमीरपुर जिले के कलाकारों ने नृत्य पेश किया। इसके बाद पेश की गई उद्योग विभाग की झांकी में खाद्य प्रंसकरण  मिशन के तहत किए जा रहे कार्य का जिक्र किया गया है । समारोह में नगर निगम शिमला की झांकी भी पेश की गई। इसमें कूड़ा कचरे के साइंटिफिक तरीके से निष्पादन कर इससे बिजली बनाने को दिखाया गया है। वहीं, जनजातीय जिले किन्नौर की नाटी ने दर्शकों का मनोरंजन किया। इसके बाद सेना की झांकी पेश की गई। इसमें कई शस्त्र दिखाए गए। वहीं, आईटीबीपी ने शस्त्र प्रदर्शन किया। इसके कमांडो ने शस्त्रों से अरनी ताकत और चुस्ती का प्रदर्शन किया। इस मौके पर सीएम जयराम ठाकुर, शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज, विधायक नरेंद्र बरागटा, बलबीर वर्मा, मुख्य सचिव विनीत चौधरी, डीजीपी एसआर मरढी, सेना के वरिष्ठ अफसर उपस्थित थे।

जिलों में मंत्रियों ने फहराया तिरंगा, परेड की सलामी ली

प्रदेश के सभी जिला मुख्यालय में गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया। इनमें धर्मशाला में आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर, ऊना में खाद्य आपूर्ति मंत्री किशन कपूर, हमीरपुर में विधानसभा अध्यक्ष राजीव बिंदल, बिलासपुर में परिवहन में गोविंद ठाकुर, सोलन में उद्योग मंत्री विक्रम सिंह ठाकुर, चंबा में शहरी विकास मंत्री सरवीण चौधरी, रिकांगपिओ में सामाजिक न्याय मंत्री डॉ. राजीव सहजल, कुल्लू में ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा, मंडी में स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार और नाहन में पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने ध्वजारोहण किया और परेड की सलामी ली।

सांस्कृतिक तहजीब का संगम, Rajpath और Spiti का की-गोंपा

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है