×

कोवैक्सीन के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के नतीजे जारी, 81 फीसदी असरदार है टीका

पीएम नरेंद्र मोदी ने भी लगवाया है कोवैक्सीन का टीका

कोवैक्सीन के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के नतीजे जारी, 81 फीसदी असरदार है टीका

- Advertisement -

नई दिल्ली। तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के आंकड़ों को जारी किए बगैर भारत में कोवैक्सीन (Covaxin) का टीकाकरण शुरू करने पर विपक्ष ने सरकार पर सवाल उठाए। कोवैक्सीन का टीकाकरण (Corona Vaccination) शुरू होने से पहले विपक्ष ने कई तरह की बातें कि थी, लेकिन अब देशी कोरोना वैक्सीन यानी कोवैक्सीन (Covaxin) के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के नतीजे सार्वजनिक कर दिए गए हैं। भारत बायोटेक कंपनी ने कोवैक्सीन को बनाया है। अब तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल (Covaxin Clinical Trial) के नतीजों में भारत बायोटेक ने बताया है कि कोवैक्सीन (Covaxin) 81 फीसदी तक असरदार साबित हुई है।


यह भी पढ़ें: कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा फेज शुरू, Video Report में जानें किस तरह कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन

आपको बता दें कि भारत में कोरोना टीकाकरण (Corona Vaccination) में कोवैक्सीन का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। बीते रोज ही पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कोवैक्सीन की पहली डोज लगवाई थी। हैदराबाद स्थित फार्मा कंपनी भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने बताया कि है कोवैक्सीन का तीसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल का डेटा (Clinical Trial Data) 25800 प्रतिभागियों पर किए गए परीक्षण के आधार पर हैं। भारत बयोटेक ने बताया है कि यह ट्रायल आईसीएमआर (ICMR) के साथ साझेदारी में किया गया था। भारत बायोटेक (Bharat Biotech) के मुताबिक कोवैक्सीन की दूसरी डोज देने के बाद लोगों में 81 फीसदी तक इसका प्रभाव अच्छा रहा है। इसके साथ ही कंपनी ने साफ किया है कि अभी क्लीनिकल ट्रायल (Bharat Biotech) जारी रहेंगे।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं के लिए 10 फरवरी से शुरू होगा टीकाकरण का दूसरा दौर

भारत बायोटेक के चेयरमैन (Bharat Biotech Chairman) डॉक्टर कृष्णा ईला ने कहा कि कोवैक्सीन वैक्सीन कोरोना के पुराने स्ट्रेन के साथ-साथ नए स्ट्रेन पर भी असरदार है। उन्होंने बताया कि कोवैक्सीन (Covaxin) को दो से 8° C के तापमान पर रखा जा सकता है। इसे रेडी-टू-यूज़ लिक्विड फॉर्मूलेशन में भेजा जाता है। भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने यह भी कहा कि 40 से अधिक देशों ने कोवैक्सीन (Covaxin) में अपनी रुचि दिखाई है। आपको बता दें कि कोवैक्सीन एक स्वदेशी कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) है। इस समय भारत में दो कंपनियों की कोरोना वैक्सीन लोगों के लिए उपलब्ध है। इसमें भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोविशील्ड (Covishield) शामिल है। ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के वैक्सीन का उत्पादन सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) कर रहा है। आपको बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी को भी कोवैक्सीन की ही डोज दी गई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है