Expand

कांट्रेक्ट पर रखेंगे रिटायर्ड अध्यापक

कांट्रेक्ट पर रखेंगे रिटायर्ड अध्यापक

- Advertisement -

  • शिक्षा मंत्री बोले, सरकार ने तैयार की नई पॉलिसी

चंडीगढ़। हरियाणा के शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने बताया कि राज्य के सरकारी स्कूलों में खाली पदों पर हरियाणा सरकार से सेवानिवृत्त अध्यापकों को अनुबंध आधार पर रखने के लिए एक पॉलिसी तैयार की है। इन सेवानिवृत्त अध्यापकों को स्थायी अध्यापकों की नियुक्ति होने तक रखा जाएगा ताकि विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित न हो।teacher2

उन्होंने बताया कि हर वर्ष जनवरी माह में सेवानिवृत्त अध्यापकों का एक पैनल तैयार कर लिया जाएगा जो कि उस वर्ष एक अप्रैल से लेकर अगले वर्ष के 31 मार्च तक मान्य होगा। उन्होंने बताया कि इस नई पॉलिसी के तहत प्रत्येक श्रेणी में स्वीकृत पदों के 25 प्रतिशत तक सेवानिवृत्त अध्यापकों का एक पैनल बनाया जाएगा। उन्होंने बताया कि पीजीटी अध्यापकों का पैनल जिला शिक्षा अधिकारी तथा टीजीटी,सीएंड वी तथा प्राइमरी अध्यापकों का पैनल जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी तैयार करेंगे। उन्होंने बताया कि पैनल के लिए अध्यापकों के 50 अंक अनुभव तथा 50 अंक परिक्षा परिणाम के रखे गए हैं। कैडर की स्थायी नौकरी के दौरान प्रत्येक पूर्ण वर्ष के लिए 2 अंक निर्धारित किए गए हैं और अधिकतम 50 अंक ही मिलेंगे।

शिक्षा मंत्री के अनुसार इच्छुक सेवानिवृत्त अध्यापक 27 नवंबर, 2016 तक इस बार संबंधित जिला के जिला शिक्षा अधिकारी एवं जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी को आवेदन कर सकते हैं। उन्होंने इस पोलिसी को शिक्षा में गुणवत्ता बढ़ाने की दिशा में एक और कदम बताते हुए कहा कि हालांकि पीजीटी,टीजीटी,सीएंड वी तथा प्राइमरी अध्यापकों के खाली पदों पर स्थायी नियुक्ति करने के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रबल प्रयास किए जा रहे हैं। इसके बावजूद कुछ कारणों से कई विषयों के अध्यापकों की कमी है। इन अध्यापकों की कमी को पूरा करने के लिए ही सरकार ने अच्छे आचरण वाले सेवानिवृत्त अध्यापकों को अनुबंध आधार पर रखने का फैसला किया है।

  • शर्मा ने बताया कि सेवानिवृत्त अध्यापकों को पुन:रोजगार की नीति के तहत एक निश्चित पारिश्रमिक दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इन सेवानिवृत्त अध्यापकों को अधिकतम 64 वर्ष की उम्र तक रखा जाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है