Covid-19 Update

1,99,467
मामले (हिमाचल)
1,92,819
मरीज ठीक हुए
3,404
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

मंडीः अपने ही खेत से गिरकर 62 वर्षीय रिटायर टीचर की मौत

मंडीः अपने ही खेत से गिरकर 62 वर्षीय रिटायर टीचर की मौत

- Advertisement -

मंडी। जिला के सरकाघाट (Sarkaghat) उपमंडल की चौक ब्राड़ता पंचायत के कुठेड़ गांव के एक 62 वर्षीय रिटायर टीचर (Retired teacher) की अपने खेत से गिरने के कारण मौत हो गई है। बताया जा रहा है जहां से उक्त व्यक्ति गिरा वहां पर दो खेतों के बीच काफी ऊंची ढलान थी। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार धर्मचंद पुत्र गंगा राम गांव कुठेड़ अपनी पत्नी के साथ सुबह 6 बजे खेत में काम करने के लिए गया और दोनों पति पत्नी सुबह 11 बजे तक खेतीबाड़ी के काम में व्यस्त रहे। 11 बजे के करीब उसने अपनी पत्नी को दोपहर का खाना बनाने के लिए घर भेज दिया और स्वयं काम करता रहा।

यह भी पढ़ें:  नीरज भारती सहित अन्य कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने पुलिस को सौंपी शिकायत

जब उसे प्यास लगी तो खेत के किनारे पर रखे पानी के बर्तन से पानी पीने लगा। चक्कर आने पर गिर गया। नीचे वाले खेत (Farm) पर मौजूद पत्थर से उसका सिर टकराया और वह लहूलुहान होकर वहीं बेहोश होकर पड़ा रहा। थोड़ी देर बाद वहां से सड़क पर पैदल जा रहे एक व्यक्ति ने उसे इस हालत में देखा और गांव के लोगों को घटना की सूचना दी। ग्रामीणों ने निज़ी वाहन से धर्मचंद को नागरिक अस्पताल (Hospital) सरकाघाट पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।


यह भी पढ़ें:  ऊनाः मैडम जी को लिखाई नहीं आई समझ तो बेरहमी से पीट डाला छात्र

 

यह भी पढ़ें:  कुल्लूः गुलाबा के पास गुजरात की महिला पर्यटक की मौत, यह रहा कारण

पुलिस ने अस्पताल आकर शव को कब्जे में लेकर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी और शव का पोस्टमार्टम (Post mortem) करवाकर परिजनों के हवाले कर दिया। धर्म चंद 4 वर्ष पूर्व सरकाघाट स्कूल से शास्त्री अध्यापक के पद से सेवानिवृत्त हुए थे। धर्मचंद के आकस्मिक निधन पर प्रदेश पेंशन कल्याण संघ के अध्यक्ष हिम्मत राम शर्मा, महासचिव दलीप सिंह, जिला अध्यक्ष रोशनलाल नेगी, मुख्यसलाहकार परमानंद टांगरा ने गहरा शोक व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना प्रकट की हैं। डीएसपी सरकाघाट चन्द्रपाल सिंह ने घटना की पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें:  दलाई लामा से मिलने पहुंची नोबेल विजेता ये विभूति, मिलकर लिखेंगे किताब

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है