- Advertisement -

सीएम चुनाव क्षेत्र बदल सकते हैं तो मैं क्यों नहीं

0

- Advertisement -

नाहन। सीएम के सराहां में जनसभा के दौरान बिंदल पर की टिप्पणी पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता विधायक राजीव बिंदल के कड़े तेवर दिखे हैं। उन्होंने कहा सीएम वीरभद्र सिंह अपना चुनाव क्षेत्र बदल सकते हैं तो मैं क्यों नहीं। पहले तो सीएम वीरभद्र अनाप-शनाप बयानबाजी करते हैं और बाद में अपने ही बयानों से पलट जाते हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि वीरभद्र इन दिनों अपनी ही पार्टी नेताओं के खिलाफ बोल रहे हैं। डॉ. राजीव बिंदल विधायक नाहन एवं प्रमुख प्रवक्ता भाजपा ने कहा कि सीएम वामन द्वादशी मेले में पधारे और धार्मिक मंच व मेले के मंच को राजनिति का मंच बना कर चले गए। बिन्दल ने वीरभद्र द्वारा उठाए गए सवाल का जवाब देते हुए कहा कि डॉ. बिन्दल ने सोलन आरक्षित होने पर अपना विधानसभा क्षेत्र नाहन बनाया, तो वीरभद्र ने भी अपना रोहडू रिजर्व होने पर शिमला ग्रामीण में आ कर चुनाव लड़ा।

Virbhadra-Singh_4वीरभद्र जी ने अपना क्षेत्र बदला यह बात भूल गए व दूसरों का याद रहा। यदि वे रोहडू से शिमला ग्रामीण में आए तो इस बार वे कहां से चुनाव लड़ने का इरादा रखते हैं। यह भी बताना चाहिए। उन्होंने कहा कि नाहन को अपनी कर्मभूमि बनाया है और नाहन की जनता द्वारा दिए गए मान सम्मान का पूरा हक चुकता करूंगा। जब तक नाहन विधानसभा क्षेत्र की जनता को सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा व रोजगार नहीं दिला लेता तब तक इलाका वासियों के लिए संघर्ष करता रहूंगा। चाहे इसके लिए कुछ भी त्याग क्यों करना पड़े। डॉ. बिन्दल ने कहा कि जिला सिरमौर में अब विकास मुद्दा है, जिसे मुद्दा बनाने में हमारी मुख्य भूमिका है। लगातार किए जा रहे संघर्षों के कारण विकास आज जनमानस का विषय बनने लगा है। मेडिकल कॉलेज नाहन का श्रेय लेना छोड़ कर उसमें विशेषज्ञ भेजने पर ध्यान केन्द्रीत करना उचित होगा।

bjp-logoडॉ. बिन्दल के सवाल

सिरमौर की सड़कों की दुर्दशा है, नई सड़कों का निर्माण बन्द है, पुरानी सड़कें गड्डों में बदल चुकी हैं। सात नेशनल हाईवे जिला सिरमौर को मोदी सरकार ने दिए है, उनकी डीपीआर नहीं बनाई जा रही है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में केन्द्र पैसा देना चाहता है, उनकी डीपीआर नहीं भेज रहे हैं। मुख्यमंत्री सड़कों के बारे में कुछ नहीं बोले जो एक पीडब्ल्यूडी मंत्री को बोलना चाहिए था। सीएम पीडब्ल्यूडी मंत्री भी हैं। कॉलेज व स्कूल बिना अध्यापकों के चल रहे हैं। राशनेलाईजेशन के नाम पर नाहन के महाविद्यालय व विद्यालय खाली कर दिए हैं, उस पर बोलना शिक्षा मंत्री जी को गंवारा नहीं था। सीएम शिक्षा मंत्री भी हैं । पूरा इलाका पेयजल की गंभीर समस्या को लेकर परेशान है, उस पर भी सीएम ने कुछ नहीं बोला। सीएम के सिरमौर प्रवास के दिन ही मिश्रवाला मदरसा में पथराव हुआ, सिर फोड़ दिए गए, गाड़ियां तोड़ दी गई, तनाव बढ़ा हुआ है, उस पर कुछ भी बोलना होम मिनिस्टर साहब ने उचित नहीं समझा।

- Advertisement -

Leave A Reply