Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

Roadways का अनिश्चितकालीन चक्का जाम

Roadways का अनिश्चितकालीन चक्का जाम

- Advertisement -

Roadways employe protest : रेवाड़ी। प्रदेश सरकार द्वारा निजी बसों को परमिट जारी करने के विरोध में सोमवार शाम रोडवेज कर्मचारियों ने रेवाड़ी डिपो पर चक्का जाम कर दिया। बसों को बस स्टैंड से हटाकर वर्कशॉप में खड़ा कर दिया गया। वहीं रोडवेज कर्मचारी यूनियन ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। चक्का जाम को देखते हुए वर्कशॉप के बाहर भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है। वहीं प्रशासन के आला अधिकारी कर्मचारी नेताओं की गतिविधियों पर लगातार नजर बनाए हुए है। कर्मचारी यूनियन का कहना है कि उनका चक्का जाम अनिश्चिकालीन है। प्रदेश सरकार व उनकी ज्वाइंट एक्शन कमेटी के बीच जब तक बातचीत नहीं होती उनका विरोध जारी रहेगा।

निजी बसों को परमिट जारी करने के विरोध में लिया निर्णय

रोडेवेज यूनियन के प्रधान कैलाश गुर्जर ने कहा कि प्रदेश सरकार ने निजी बसों को परमिट जारी करने का जो फैसला लिया है,  वो सरासर रोडवेज को नुकसान पहुंचाने वाला फैसला है। उन्होंने कहा कि इससे रोडवेज को हजारों करोड़ रुपए का नुकसान होगा। उन्होंने कहा कि निजी बसों को परमिट जारी करने की बजाए सरकार को रोडवेज के बेड़े में अतिरिक्त बसों को शामिल करना चाहिए था, जिससे रोडवेज का फायदा हो। उन्होंने कहा कि सरकार के इस फैसले के विरोध में पूरे प्रदेश में रोडवेज कर्मचारियों की अलग-अलग यूनियन ने मिलकर विरोध शुरू कर दिया है। जींद, अंबाला, दादरी व भिवानी में पहले ही विरोध शुरू हो चुका है। इस विरोध को आगे बढ़ाने के लिए आज रेवाड़ी से विरोध शुरू किया गया है। इस मौके पर कर्मचारी यूनियन के सतेन्द्र यादव, मामराज यादव, देवेन्द्र तिवाड़ी, धर्मबीर सिंह, राजबीर, संदीप सिंह, रवि कुमार, भूपसिंह, अजय कुमार, उद्यम सिंह, मदन लाल, सुदेश कुमार आदि मौजूद थे। सोमवार शाम तक रेवाड़ी डिपो से रोडवेज बसों का आवागमन रोजाना की तरह हो रहा था, लेकिन शाम करीब 5 बजे यूनियन के कर्मचारी एकत्रित हुए और चक्का जाम करने का फैसला कर दिया।


बस स्टैंड पर खड़ी कई रूटों की बसों को रवाना करते हुए उसके बाद एक भी बस को वहां से रवाना नहीं किया। बसों को बस स्टैंड से वापस वर्कशॉप में ले जाकर खड़ा कर दिया गया। रोडवेज का चक्का जाम करने के बाद सभी कर्मचारी बस स्टैंड के साथ लगते वर्कशॉप के गेट पर पहुंच गए। पहले से तैयारी के तहत वहां दरी डालकर सभी कर्मचारी बैठ गए और प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सूचना पाते ही भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया और वर्कशॉप व बस स्टैंड पर तैनात कर दिया गया। इस चक्का जाम से यात्रियों को भारी परेशानी उठानी पड़ी।

यह बी पढ़ें : Roadways कर्मियों ने पहले Gate Meeting कि और फिर विरोध प्रदर्शन

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है