Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,594,803
मामले (भारत)
231,514,397
मामले (दुनिया)

“खड्डी” से ऐसे पलता है पूरा परिवार

- Advertisement -

कुल्लू-मनाली के मध्य प्रसिद्ध पर्यटन स्थल नग्गर स्थित रॉरिक आर्ट गैलरी के साथ लगते शरण गांव की रहने वाली कमला के परिवार से कोई भी सरकारी नौकरी में नहीं है। होश संभालते ही उसने खड्डी को जीने का सहारा बना लिया। पारम्परिक और सस्ती सी खड्डी उसके परिवार के लिए वरदान बन गई। कमला बताती है कि वह खड्डी पर बुनाई का कार्य नियमित तौर पर करती है। इसके साथ-साथ वह मवेशियों की देखभाल तथा अन्य घरलेू कार्यों का भी निष्पादन करती है। वह दोडू, पट्टू, स्टॉल तथा गर्म वस्त्रों के लिए पट्टी की बुनाई करती है। नग्गर घाटी में हमारे देश के अलावा बड़ी संख्या में विदेशी टूरिस्ट आते हैं और वे हाथ से बुनी हुई वस्तुओं को बहुत पंसद करते हैं। वह अपने उत्पादों को बेचकर अच्छा पैसा कमा लेती है। इसी खड्डी से कमला ने अब एक अच्छा सा घर भी बना लिया है। वह नई पीढ़ी से बुनाई की इस परंपरा को आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित करती है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED VIDEO

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है