Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,579,651
मामले (भारत)
197,642,926
मामले (दुनिया)
×

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर बोलीं, भगवा आतंकवाद की कहानी Congress ने रची

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर बोलीं, भगवा आतंकवाद की कहानी Congress ने रची

- Advertisement -

Attack on Congress: नई दिल्ली। एक लंबे अंतराल के बाद जेल से बाहर आई साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कांग्रेस और एटीएस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मालेगांव बलास्ट केस में 9 साल बाद जमानत पर जेल से बाहर आई साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का आरोप है कि कांग्रेस ने उन्हें पूरी तरह से खत्म करने का षडयंत्र रचा था।

  • आखिर जेल से निकली साध्वी प्रज्ञा ठाकुर , जमानत पर रिहा
  •  मालेगांव बलास्ट केस में हुई थी सजा

साध्वी ने एटीएस पर उन्हें गंभीर रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। साध्वी ने मुंबई हमले में शहीद तत्कालीन एटीएस चीफ हेमंत करकरे पर भी आरोप लगाए हैं। दो दिन पहले जमानत मिलने के बाद साध्वी प्रज्ञा भोपाल में लोगों से मिली। उन्होंने आरोप लगाया है कि एटीएस ने उन्हें 10 अक्टूबर 2008 को सूरत से मुंबई ले जाकर 13 दिन तक बंधक बनाए रखा और पुरुष एटीएस कर्मियों ने उन्हें खूब प्रताड़ित किया। गिरफ्तारी के बाद पुरुषों ने उन्हें इतना प्रताड़ित किया है कि शायद ही आजादी से पहले किसी महिला के साथ ऐसा हुआ हो।


Attack on Congress: साध्वी ने कांग्रेस और एटीएस पर लगाए प्रताड़ना के आरोप

उन्होंने मुंबई हमले के शहीद हेमंत करकरे समेत कई एटीएस कर्मियों पर प्रताड़ना के आरोप लगाए हैं। उनका आरोप है कि कांग्रेस ने उन्हें खत्म करने का पूरा षड्यंत्र रच दिया था। उनका कहना है कि भगवा आतंकवाद की कहानी कांग्रेस ने रची थी। सच्चाई ये थी कि मालेगांव बलास्ट में इस्तेमाल की गई मोटरसाइकिल वह बेच चुकी थी। अजमेर बलास्ट के बारे में साध्वी ने कहा कि दो लोगों को दोषी मानकर सजा दी गई है। प्रज्ञा ने कहा कि वह निर्दोष थी और है उसे फंसाया गया है। उनकी गिरफ्तारी कांग्रेस की साजिश थी। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने बताया कि उनके साथ 9 वर्ष तक अन्याय हुआ है, लेकिन अब जो सरकार है उन्हें उस पर पूरा भरोसा है वह कोई षडयंत्र नहीं करेगी।

इस दौरान कई बार उनके समर्थकों ने नारेबाजी भी की। प्रज्ञा ने इससे पहले कोर्ट को जमानत देने के लिए कोर्ट का आभार जताया। उन्होंने कहा कि उन्हें इलाज के लिए जमानत देने के लिए वह कोर्ट की आभारी हैं। अब वह अपना इलाज कराएंगी।

फर्जी Passport केसः छोटा राजन को सात साल की सजा

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है