Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

40 साल पहले स्कूल भवन को दी जमीन पड़ी रही बेकार, अब Sanskrit University के आएगी काम

40 साल पहले स्कूल भवन को दी जमीन पड़ी रही बेकार, अब Sanskrit University के आएगी काम

- Advertisement -

शिमला। संस्कृत अकादमी की टीम ने शुक्रवार को मशोबरा ब्लॉक (Mashobra block in shimla) की पंचायत पीरन के गांव नारिगा में संस्कृत विश्वविद्यालय (Sanskrit University) की स्थापना के लिए भूमि का निरीक्षण किया। करीब 40 वर्ष पूर्व ग्राम पंचायत पीरन द्वारा नारिगा में स्कूल के भवन व खेल मैदान के निर्माण के लिए करीब 16 बीघा भूमि शिक्षा विभाग के नाम हस्तांतरित की गई थी परंतु इस जमीन पर आज तक स्कूल का भवन नहीं बनाया गया है और यह भूमि बेकार पड़ी है जिसका अकादमी की टीम द्वारा मुआयना किया गया। संस्कृत अकादमी के सचिव (Secretary, Sanskrit Academy) डॉ भगत वत्सल शर्मा ने कहा कि प्रदेश में संस्कृत विश्वविद्यालय की स्थापना की जानी प्रस्तावित है जिसके लिए प्रदेश के विभिन्न जिलों में उपयुक्त भूमि की तलाश की जा रही है।

यह भी पढ़ें : हिमाचल में खुलेगा संस्कृत विश्वविद्यालयः भारद्वाज

 

 

इनका कहना है कि विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए करीब दो सौ बीघा भूमि की आवश्यकता होती है। इससे पहले टीम द्वारा सोलन जिला के जटोली, मंडी के सुन्दरनगर और चंबा में भी भूमि का निरीक्षण किया था। डॉ भगत वत्सल शर्मा (Dr. Bhagat Vatsal Sharma) के नेतृत्व में गठित टीम के अन्य सदस्यों में ओएसडी संस्कृत अकादमी डॉ प्रवीण कुमार, संस्कृत भारती के पदाधिकारी नरेन्द्र कुमार और संस्कृत प्राध्यापक संघ के प्रधान मुकेश कुमार शर्मा शामिल थे । इस मौके पर वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पीरन के प्रधानाचार्य महेश शर्मा, पटवारी विजय कुमार, पूर्व प्रधान बालक राम निर्मोही, राहुल शर्मा, संजीव शर्मा सहित अन्य स्थानीय लोग मौजूद रहे।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है