×

सत्ती के बोलः Back Door Entry युवाओं के साथ खिलवाड़

सत्ती के बोलः Back Door Entry युवाओं के साथ खिलवाड़

- Advertisement -

शिमला। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस सरकार बैक डोर एन्ट्री के माध्यम से चहते और रिश्तेदारों की भर्तियां करके प्रदेश के होनहार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। वर्तमान प्रदेश सरकार के कार्यकाल में नियमों और कायदों को ताक में रखकर चिटों पर भर्तियों का दौर पुनः आरंभ हो गया है, जिसका खामियाजा प्रदेश सरकार आने वाले चुनावों में भुगतेगी।


  • नियमों और कायदों को ताक में रखकर चिटों पर भर्तियों का दौर दोबारा शुरू

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार ने 31 दिसम्बर, 2015 से देशभर में क्लास थ्री व क्लास फोर में साक्षात्कार की प्रक्रिया को पूरी तरह से खत्म कर दिया है और उन्होंने सभी प्रदेश सरकारों से आग्रह किया था कि वह अपने यहां भी इन श्रेणियों से साक्षात्कार को खत्म करें।

उनके इस आग्रह पर लगभग सभी राज्यों ने इन श्रेणियों में साक्षात्कार को खत्म कर दिया है, परन्तु हिमाचल प्रदेश सरकार ने अभी तक क्लास थ्री व क्लास फोर में साक्षात्कार खत्म नहीं किए हैं। अगर प्रदेश सरकार की नीयत स्पष्ट होती तो वह इस सम्बन्ध में निर्णय ले चुकी होती। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि रोजगार देने के आंकड़ों में भी प्रदेश सरकार जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रही है। रोजगार कार्यालय में दर्ज आंकड़ों के हिसाब से पिछले दो वर्षों में अभी तक 1150 लोगों को रोजगार दिया गया है। जबकि, प्रदेश सरकार 45000 लोगों को रोजगार देने का दावा कर रही है। उन्होंने प्रदेश सरकार को चुनौती देते हुए कहा कि अगर प्रदेश सरकार में थोड़ा सा भी दम है तो वह पिछले चार वर्षों में प्रदेश के सभी सरकारी व अर्द्धसरकारी क्षेत्रों में हुई भर्तियों के सभी आंकड़ों को जिलावार जनता के समक्ष रखने के लिए श्वेत पत्र जारी करें। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि चुनावी वादों को पूरा करने में असफल रही कांग्रेस अब झूठी घोषणाओं का सहारा लेने की कोशिश कर रही है। नई घोषणा करने से पूर्व प्रदेश कांग्रेस सरकार को पूर्व में की गई घोषणाओं पर अमली जामा पहनाना चाहिए। प्रदेश सरकार अभी तक बेरोजगारी भत्ता देने में नाकाम रही है। इसी तरह कर्मचारियों को वर्ष 2006 से 4-9-14 के वित्तीय लाभों को देने के अपने वादे को भी पूरा करने में सीएम नाकाम साबित हुए हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है