- Advertisement -

बच्चों को नशे के दुष्प्रभाव से बचाने सरकार का ‘भागमभाग-जागमजाग’ 

कक्षा 5 की किताब में शामिल करने के लिए बनाया पाठ 

0

- Advertisement -

दयाराम कश्यप/सोलन। राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद सोलन ने बच्चों को नशे के दुष्प्रभाव से बचाने के मकसद से कक्षा 5 की किताब में ‘भागमभाग-जागमजाग’ नाम की एक कहानी का पाठ तैयार किया है। इस पाठ को सरकार और हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड धर्मशाला के चेयरमैन डॉ. अरूण कुमार शर्मा कोभेजा गया है। यह पाठ विशेष रूप से सीएम जयराम ठाकुर के आग्रह पर तैयार किया गया है।

यह है कहानी

एससीईआरटी सोलन की प्रिंसिपल डॉ. नम्रता टिकू ने बताया कि इस पाठ में रूचिकर कहानी के रूप में बच्चों के माध्यम से उनके परिवारों को नशे के प्रति सचते करने की पहल की गई है। कहानी में प्रदेश के एक ऐसे हंसते खेलते परिवार को बताया गया है जिसका मुखिया नशे की लत का शिकार हो जाता है। ऐसा होने पर उसके परिवार की आर्थिक स्थिति दिन-प्रतिदिन बिगड़ती चली जाती है।
उसे अनेकों बीमारियां घेर लेती हैं। उसे लगता है कि वह परिवार पर बोझ बनता जा रहा है। कहानी के अंत में मुखिया को अपनी गलती का अहसास होता है। परिवार का बेटा राजू शपथ लेता है कि वह खुद तो नशे से दूर रहेगा ही, अपने साथियों को भी इस बुरी आदत से दूर रहने के लिए प्रेरित करेगा।

- Advertisement -

Leave A Reply