Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

एससी छात्रों की स्कॉलरशिप पर डाका, एसडीएम के दर पहुंचा मामला

एससी छात्रों की स्कॉलरशिप पर डाका, एसडीएम के दर पहुंचा मामला

- Advertisement -

लेखराज धरटा/शिमला। हिमाचल में एक स्कॉलरशिप घोटाले (Scholarship Scam) के जांच अभी पूरी नहीं हुई है और ऊपरी हिमाचल (Himachal) में एक और मामला सामने आया है। इसमें अनुसूचित जाति (SC) के कॉलेज छात्रों को शिकार बनाया जाता रहा है। रामपुर (Rampur) के सैकड़ों कॉलेज छात्रों को वर्ष 2017- 18 में एक निजी कंप्यूटर शिक्षण संस्थान ने झांसे में लाकर मुफ्त कंप्यूटर शिक्षा देने के साथ-साथ मासिक 1000 देने का सब्जबाग दिखाया था। इसके साथ-साथ उन्हें यह भी बताया गया था कि आने वाले समय में कंप्यूटर डिप्लोमा नौकरी के लिए केवल उनके संस्थान का ही मान्य रहेगा। संस्थान में दाखिला लेने के बाद सबसे पहले एक बैंक की सहायता से छात्रों के खाते खुलवाए गए।

 


यह भी पढ़ें: हिमाचल के चार जिलों में मानसून की दस्तक, कैसे रहेंगे मिजाज-जानिए

 

छात्रों को उसके बाद पासबुक व एटीएम नहीं दिए गए। निजी कंप्यूटर संस्थान संचालक के माध्यम से छात्रों तक चेक बुक पहुंचाई गई। कंप्यूटर संस्थान प्रबंधकों ने चेक (Check) बुक थमाने से पहले दो-दो खाली चेक (Check) हस्ताक्षर कर हर छात्र से लिए। तर्क था कि स्कालरशिप के लिए यह अनिवार्य है। जैसे ही उच्च शिक्षा निदेशालय से इस वर्ष इन छात्रों के बैक खातों में 30000 आने लगे तो निजी संस्थान संचालकों ने पैसों की निकासी छात्रों के खातों से शुरू कर दी।

कुछ छात्रों के बैंक (Bank) खाते आधार से लिंक होने के कारण संबंधित बैंक में धनराशि ना जाकर दूसरे बैंकों में राशि चली गई। इससे निजी कंप्यूटर संस्थान संचालकों की मुश्किलें बढ़ गई और उन्होंने छात्रों को धमकाना शुरू कर दिया। छात्रों को हिदायत दी कि अगर संस्थान को पैसे नहीं लौटाए गए तो कहीं भी सेवा के काबिल नहीं छोड़ा जाएगा। छात्रों ने इस तरह की धमकियों और मानसिक प्रताड़ना से तंग आकर एसडीएम (SDM) रामपुर से लिखित शिकायत की है और साथ में राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग को शिकायत भेजा कार्रवाई की मांग की है।

 

क्या कहते हैं छात्र

कॉलेज छात्र पदम ने बताया कि वह वर्ष 2017-18 में कॉलेज में निजी कंप्यूटर संस्था के प्रतिनिधि आए और उन्होंने छात्रों को गुमराह करने का प्रयास किया। शिकायत उन्होंने एसडीएम और राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग से भी की है। अजय कुमार ने बताया कि वे इस शिक्षण संस्थान में केवल अब तक 2 बार आए हैं और पेपर दिया है, लेकिन अब भी 30 हजार की मांग संस्था संचालक कर रहे हैं और उन्हें टॉर्चर किया जा रहा है। सुशील कुमार ने बताया कि धमकियां दे रहे हैं और पैसों की मांग कर रहे हैं। रामपुर कॉलेज छात्रा मुकेश कुमारी ने बताया कि निजी संस्थान संचालक उन्हें प्रताड़ित कर रहे हैं और भविष्य खराब करने की धमकी दी जा रही है ।

एसडीम रामपुर नरेंद्र चौहान ने बताया कि एक संस्थान द्वारा स्कॉलरशिप (Scholarship) के नाम पर नाम पर ब्लैंक चेक (Check) लेने की शिकायत मिली है। उनके खातों से पैसे निकासी की बात हुई है। उन्होंने संस्थान संचालकों को तलब किया है। मामला दर्ज करवाने पर भी विचार किया जाएगा।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है