Covid-19 Update

2,21,437
मामले (हिमाचल)
2,16,413
मरीज ठीक हुए
3,704
मौत
34,081,315
मामले (भारत)
241,563,005
मामले (दुनिया)

Himachal में स्कूल बैग नीति-2020 लागू, छात्रों को मिलेगी भारी भरकम Bag से मुक्ति

बच्चों को देनी होगी लॉकर सुविधाए छात्र के वजन का 10 फीसदी होगी बैग का भार

Himachal में स्कूल बैग नीति-2020 लागू, छात्रों को मिलेगी भारी भरकम Bag से मुक्ति

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को स्कूल बैग (School Bag) के भार से छुटकारा मिलेगा। बैग का भार विद्यार्थियों के कुल भार का सिर्फ दस फीसदी ही होगा। यह व्यवस्था शैक्षणिक सत्र 2021-22 से सभी सरकारी स्कूलों (Govt School)में लागू होगी। इसको लेकर प्रदेश सरकार (State Govt) ने राष्ट्रीय शैक्षणिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) से जारी स्कूल बैग नीति 2020 (School Bag Policy -2020) को अधिसूचित कर दिया है। वहीं उच्च शिक्षा निदेशालय ने सभी उपनिदेशकों और प्रिंसिपलों को इस बाबत निर्देश भी जारी कर दिए हैं। बच्चों के स्कूल बैग का वजन स्कूलों में तौला जाएगा और नियमित बैग के वजन की निगरानी होगी। वहीं छात्रों के लिए स्कूलों में ही पीने के पानी की उचित व्यवस्था करनी होगी, ताकि विद्यार्थियों को पानी की बोतल (water Botel) साथ ना लानी पड़े। स्कूल बैग भी हल्के मैटेरियल से तैयार होगा। स्मार्ट क्लासरूम (Smart classroom) का ज्यादा प्रयोग किया जाएगा। इसके अलावा छात्रों को स्कूल में किताबें रखने के लिए लॉकर सुविधा देनी होगी। विद्यार्थियों को रोजाना घरों से किताबें नहीं लानी होंगी।

यह भी पढ़ें: हरियाणा सरकार दे रही रिटायर्ड शिक्षकों को कॉन्ट्रैक्ट पर नौकरी, School Principal करेंगे तैनाती

स्कूल बैग नीति-2020 के तहत बैग का भार कम करने के लिए दो विद्यार्थी एक किताब शेयर कर सकेंगे। सेमेस्टर वार किताबें तैयार की जाएंगी। सप्ताह में 10 से 12 घंटे के हिसाब से ही विद्यार्थियों को होम वर्क (home work) मिलेगा। इसके लिए टाइम टेबल नए सिरे से तैयार किए जाएंगे। शिक्षा मंत्रालय द्वारा जारी किए गए उपायों में होमवर्क की समय सीमा कक्षा वार तय की है। स्कूलों में दूसरी कक्षा तक के छात्रों को कोई होमवर्क नहीं दिया जाएगा। जबकि कक्षा 3 से 6 के लिए साप्ताहिक 2 घंटे तक का होमवर्क दिया जाएगा। इसके अलावा कक्षा 6 से 8 के लिए प्रतिदिन एक घंटे का होमवर्क और कक्षा 9 से 12 के लिए अधिकतम 2 घंटे का होमवर्क होगा। 12वीं में पढ़ने वाले छात्रों के लिए कुल छह किताबें होंगी, जिनका वजन 4.182 किलो तक होगा। बैग में किताबों का वजन 500 ग्राम से 3.5 किलो रहेगा। कॉपियों का वजन 200 ग्राम से 2.5 किलोग्राम रहेगा। स्कूलों में गैर शिक्षण गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए बैग फ्री डे का आयोजन हर माह होगा। इसमें खेल, सांस्कृतिक, आर्ट्स, क्विज और क्राफ्ट से जुड़ी गतिविधियां होंगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है