Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

इंजीनियरिंग के बाद ढूंढ रहीं थी नौकरी, चुनाव लड़ बन गईं सांसद

इंजीनियरिंग के बाद ढूंढ रहीं थी नौकरी, चुनाव लड़ बन गईं सांसद

- Advertisement -

पुरी। लोकसभा चुनाव 2019 (Loksabha Election 2019) के नतीजों में इस बार कई बड़े उलटफ़ेर देखने को मिले। कई दिग्गजों को युवा उम्मीदवारों के सामने घुटने टेकने पड़े। युवाओं ने भी चुनाव जीतने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी। इसी का नतीजा है कि सबसे कम उम्र की आदिवासी महिला इस बार संसद पहुंच रही है। ओडिशा की क्योंझर लोकसभा सीट से जीत दर्ज कर संसद पहुंचने वाली चंद्राणी मुर्मू (Chandrani Murmu) सबसे कम उम्र की महिला सांसद बन गई हैं। चंद्राणी इंजीनियरिंग ग्रेजुएट (Engineering Graduate) हैं। चंद्राणी को राजनीति (Politics) का ज़्यादा अनुभव नहीं है। 2017 में उन्होंने भुवनेश्वर से इंजीनियरिंग की डिग्री पूरी की। इसके बाद चंद्राणी नौकरी ढूंढ रही थी, तभी उन्हें बीजेडी की ओर से टिकट की पेशकश की गई। चंद्राणी ने पार्टी के इस प्रस्ताव स्वीकार कर लिया और चुनाव मैदान में उतर गईं।

यह भी पढ़िए : दुनिया का ऐसा गांव जहां किसी को नजर नहीं आता, जानें इसका रहस्य

क्योंझर (Keonjhar) देश के सबसे पिछड़े ज़िलों में से एक है। इस ज़िले में आदिवासी जनसंख्या अधिक है। यही कारण रहा कि बीजेडी (BJP) ने बेहद कम अनुभवी चंद्राणी को यहां से अपना उम्मीदवार बनाया। चंद्राणी ने यहां से दो बार के बीजेपी सांसद अनंत नायक (Anant Nayak) को 66,000 से अधिक वोटों से हराया। चंद्राणी ने कहा, ‘मैं हर दिन कुछ न कुछ सीखने की कोशिश करती हूं। राजनीति में कदम रख ही लिया है, तो अब मैं जनता के प्रति पूरी तरह से समर्पित रहूंगी। इसके बावजूद मेरी जो पहचान है, हमेशा वही बने रहने की पूरी कोशिश करूंगी। चुनाव प्रचार के दौरान लोगों से बहुत सारा प्यार मिला। जीत के बाद अब मैं अपने क्षेत्र के लोगों के लिए काम करुंगी। उनकी समस्याओं का समाधान करने की पूरी कोशिश करुंगी।’ चंद्राणी के माता-पिता सरकारी नौकरी (Government Employee) में हैं। चंद्राणी के परिवार से कोई भी राजनीति में नहीं है। बता दें कि 17वीं लोकसभा में सबसे ज़्यादा महिलाएं संसद पहुंची हैं। इनमें से सबसे अधिक 7 सांसद ओडिशा से हैं। जिनमें से 5 बीजू जनता दल से, जबकि 2 बीजेपी से हैं।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है