Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

बंदोबस्त में खामियों की जांच न होने पर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठा बुजुर्ग

बंदोबस्त में खामियों की जांच न होने पर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठा बुजुर्ग

- Advertisement -

हमीरपुर। बंदोबस्त में खामियों की जांच न होने पर 75 घंटे की भूख हड़ताल पर बैठे विकासनगर के बाशिदें फिल्लू राम ने शनिवार सेअनिश्चित कालीन हड़ताल शुरू कर दी है। उनका आरोप है कि विकास नगर में करोड़ों के भूमि घोटाले की जांच की मांग को लेकर हाईकोर्ट में पीआईएल दे रखी है लेकिन भू-बदोबंस्त विभाग और प्रशासन ने इस मामले में लीतापोती कर हाईकोर्ट को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि घोटाला 2012 में हुआ है जबकि विभाग 2010 के रिकार्ड दे रहा है।

एसडीएम ने हड़ताल खत्म कर दुरुस्ती को कहा

बुजुर्ग का कहना है कि एसडीएम ने उनसे मुलाकात कर हड़ताल खत्म कर दुरूस्ती के लिए आवेदन करने को कहा है । उन्होंने कहा कि जब उन्होंने कहीं भी रिकार्ड में हस्ताक्षर नहीं किए है तो वह क्यों आवेदन करें । उन्होने आरोप लगाया कि विभागीय अधिकारियों की लापरवाही के कारण ग्रामीणों को परेशानी उठानी पड़ रही है। उन्होंने इस मुद्दे को कोर्ट में ले जा कर भ्रष्टाचार को उजागर कर दोषियों के खिलाफ करवाई की मांग भी उठाई।


छह बुजुर्गों ने दिया फिल्लू राम का साथ

गौरतलब है कि बंदोबस्त में हुए भूमि घोटाले की जांच न होने पर फिल्लू राम सहित छह बुजुर्ग हमीरपुर गांधी चौक पर 75 घंटे की भूख हड़ताल पर बैठे थे। फिल्लू राम का आरोप है कि बार-बार प्रशासन से जांच की मांग की गई है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई है। उन्होंने आरोप लगाया कि टीका दडूही की जमीन का रिकार्ड सुरक्षित नहीं है और इस्तेमाल साल 1965-66 की अक्स नशा मोमी को नष्ट कर दिया है। उन्होने कहा कि 2006-07 में हुए बंदोबस्त का अक्ष व खसरा नंबर साल 1965-66 से नही मिल रहे है और विभाग भी इसकी दुरूस्ती नहीं कर रहा है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है