×

IAS दीपक सानन हुए सेवानिवृत्त, कुछ वित्तिय लाभ रुके

IAS दीपक सानन हुए सेवानिवृत्त, कुछ वित्तिय लाभ रुके

- Advertisement -

शिमला। अतिरिक्त मुख्य सचिव रैंक के वरिष्ठ अफसर दीपक सानन आज सेवानिवृत्त हो गए। सरकार से नाराज चल रहे सानन को कैट के आदेश पर कुछ दिनों पहले ही प्रधान सलाहकार (प्रशासनिक सुधार एवं प्रशिक्षण) तैनात किया था। लेकिन, इनकी रिटायरमेंट से पहले उनके खिलाफ एक मामले में दायर चार्जशीट को सरकार ने ड्राप नहीं किया है। इस कारण उनके कुछ वित्तिय लाभ रुक गए हैं। 1982 बैच के आईएएस अफसर दीपक सानन पर एचपीसीए के एक मामले में आरोपी बनाया गया है। उन पर आरोप है कि बतौर राजस्व सचिव उन्होंने नियमों के विपरीत एचपीसीए को धर्मशाला में होटल बनाने को भूमि अलाट की। इसे लेकर कोर्ट मे मामला चल रहा है। बताते हैं कि सानन के खिलाफ चार्जशीट दायर करने के मामले पर केंद्र के कार्मिक विभाग ने राज्य सरकार को लिखा था कि उनके (सानन) के खिलाफ कोई मामला नहीं बनता।


  • उनके खिलाफ एचपीसीए मामले में दायर केस नहीं हुआ ड्राप

इस संबंध मे केंद्र से दो बार लिखा गया था, लेकिन इसके राज्य सरकार ने इनके खिलाफ दायर चार्जशीट को ड्राप नहीं किया। इस बीच, राज्य में वीसी फारका को मुख्य सचिव बनाने के बाद दीपक सानन सरकार से खफा हो गए और छुट्टी पर चले गए थे। इस बीच उन्होने इस तैनाती के खिलाफ कैट में याचिका दायर कर दी थी। वहां से आदेश हुए कि वे सरकार को अपनी तैनाती को लेकर बात रखें और अपनी ज्वाइनिंग दें।

सरकार ने दीपक सानन को पिछले सप्ताह ही प्रधान सलाहकार (प्रशासनिक सुधार एवं प्रशिक्षण) तैनात किया था। सानन के खिलाफ दर्ज चार्जशीट ड्राप करने को लेकर सरकार में मंथन भी हुआ, लेकिन इसे ड्राप करने पर कोई फैसला नहीं लिया गया। ऐसे में सानन के कुछ वित्तिय लाभों पर रोक लग गई है, जिनमें ग्रेच्युटी और लीव एनकेशमेंट शामिल है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है