Covid-19 Update

2,18,523
मामले (हिमाचल)
2,13,124
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,697,581
मामले (भारत)
233,205,019
मामले (दुनिया)

इस शहर में बसने की चुकानी पड़ती है इतनी बड़ी कीमत, जानकर हो जाएंगे हैरान

इस शहर में बसने की चुकानी पड़ती है इतनी बड़ी कीमत, जानकर हो जाएंगे हैरान

- Advertisement -

आपने दुनिया के अलग-अलग देशों में अलग-अलग कानूनों के बारे में सुना या पढ़ा तो जरूर होगा। हर देश में कई ऐसे नियम-कानून (Law and order) होते हैं जिनके बारे में सुनकर थोड़ी हैरानी भी जरूर होती है। लेकिन क्या आपने कभी ऐसे कानून के बारे में पढ़ा या सुना है जिसके तहत आपको किसी शहर (City) में रहने के लिए अपने शरीर का एक अंग हमेशा के लिए हटवाना पड़ता है। ये कोई कहानी-किस्सा नहीं बल्कि सच है।

यह भी पढ़ें: कोरोना से जंग जीतने वाले भाई-बहन के घर पहुंचे DC-एसपी और CMO

करवाना होता है अपेंडिक्स का ऑपरेशन

सुनने में अजीब तो लगता है लेकिन यह है सच। दरअसल, अंटार्कटिका (Antarctica) के एक गांव विलास लास एस्ट्रेलास में लंबे समय तक रहने की इच्छा रखने वालों के लिए एक ऐसी ही शर्त रखी जाती है जिसमें उन्हें अपने अपेंडिक्स का ऑपरेशन करवाना होता है। ऐसा इस गांव में इसलिए होता है क्योंकि यहां मौजूद सबसे करीब का अस्पताल भी तकरीबन 1000 किलोमीटर दूरी पर है और यहां पहुंचने के लिए लोगों को बर्फ से ढकी पहाड़ियां और खतरनाक रास्तों से होकर गुजरना पड़ता है। वहां पर कुछ ही डॉक्टर हैं और उनमें भी कोई सर्जन नहीं। ऐसे में अगर किसी को अपेंडिक्स का दर्द उठ जाए तो जान जाने का खतरा बना रहता है।

यह भी पढ़ें: कोरोना संकट में बचाई युवती की जान, महिला पुलिसकर्मी ने 7वीं बार किया रक्तदान

अपेंडिक्स को माना जाता है गैरजरूरी अंग

यही वजह है कि यहां अपेंडिक्स को गैरजरूरी अंग मानते हुए उसे हटाना जरूरी है। दरअसल अपेंडिक्स आंत का एक टुकड़ा है। जिसे एपिन्डिसाइटिस भी कहते हैं। जिसमें कई बार खाने का कोई कण अटक कर सड़ने लगता है और ये अंग संक्रमित हो जाता है। अगर संक्रमण ज्यादा दिनों तक बना रहे तो अपेंडिक्स फटने का डर बना रहता है जो कि जानलेवा साबित हो सकता है इसलिए विलास लास एस्ट्रेलास में रहने से पहले अपेंडिक्स की सर्जरी कराना अनिवार्य है। तो आपको भी इस जगह जाने या बसने का मन है तो इस बात का जरूर ख्याल रखें।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है