Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

Shanta के बोल, mobile के इस्तेमाल पर रोक Good Decision

Shanta के बोल,  mobile के इस्तेमाल पर रोक Good  Decision

- Advertisement -

Mobile Ban : पालमपुर। सांसद शांता कुमार ने कहा है हिमाचल सरकार द्वारा स्कूल और कॉलेजों में मोबाइल के इस्तेमाल पर रोक लगाने का निर्णय अत्यन्त महत्वपूर्ण है। इसके दूरगामी अच्छे परिणाम होंगे। उन्होंने इस निर्णय के लिए सरकार और शिक्षा विभाग की सराहना की है।  साथ ही सभी अध्यापकों और बच्चों के अभिभावकों से भी आग्रह किया है कि वे इस निर्णय को लागू करवाने का पूरा प्रयत्न करें। यह एक प्रशंसनीय व ऐतिहासिक निर्णय है। शांता कुमार ने कहा है कि घरों में भी इसके इस्तेमाल पर मर्यादा लगानी चाहिए। बच्चे इसका कितना उपयोग करते है और उसमें क्या-क्या देखते रहते हैं इसका अभिभावकों को पता नहीं होता, वे ध्यान भी नहीं दे रहे है।  उन्होंने हिमाचल सरकार से आग्रह किया है कि यह प्रतिबंध सभी निजी स्कूलों और सभी प्रकार की शिक्षण संस्थानों पर लागू होना चाहिए।

पढ़ाई में पिछड़ रहे बच्चे, आत्महत्या की संख्या बढ़ी

शांता कुमार ने कहा है कि बहुत से बच्चे पढ़ाई में इसीलिए पिछड़ रहे है कि उनमें मोबाइल और सोशल मीडिया की आदत अधिक हो गई हैं। धीरे-धीरे यह एक नशा बनता जा रहा है और यह सबसे हानिकारक है। कोटा जैसे कोचिंग केंद्रों में आत्महत्या की संख्या बढ़ती जा रही। उन्होंने कहा कि एक शोध के बाद कहा गया है कि 12 साल की आयु से छोटे बच्चों को मोबाइल देने से वे रोगग्रस्त हो जाएंगे। अधिक देर टीवी देखने से बच्चों की आंखें खराब हो रही है। पिज्जा बर्गर जैसे जंक फूड खाने व मोबाइल, सोशल मीडिया के गलत व अधिक प्रयोग से बच्चों का स्वास्थ्य खराब हो रहा है। यह प्रसन्नता का विषय है कि हिमाचल प्रदेश ने सबसे पहले यह नियम लागू किया।


ये भी पढ़ें  : फैसलाः कॉलेज में Students-Teachers के मोबाइल Ban

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है