Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,563,421
मामले (भारत)
230,985,679
मामले (दुनिया)

दिल्ली दंगा भड़काने और देशद्रोह के आरोपित शरजील इमाम को हुआ Corona, असम से लाने गई पुलिस लौटी

दिल्ली दंगा भड़काने और देशद्रोह के आरोपित शरजील इमाम को हुआ Corona, असम से लाने गई पुलिस लौटी

- Advertisement -

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान दंगा भड़काने और देशद्रोह का आरोपित शरजील इमाम (Sharjeel Imam) कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) पाया गया है। दिल्ली हिंसा की साजिश के आरोपी शरजील को हिरासत में लेने और असम से दिल्ली लाने के लिए दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की एक टीम असम गई थी। लेकिन वहां जब शरजील की कोरोना जांच हुई तो उसमें वो कोरोना संक्रमित पाया गया। ऐसे में दिल्ली पुलिस को शरजील का ट्रांजिट रिमांड नहीं मिला। अब दिल्ली पुलिस को शरजील इमाम की हिरासत के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा।

28 फरवरी को बिहार से शरजील इमाम को गिरफ्तार किया गया था

असम की जेल में बंद जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) के छात्र शरजील इमाम के खिलाफ दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अनलॉफुल एक्टिविटी प्रिवेंशन एक्ट (यूएपीए) के तहत मामला दर्ज किया है। शरजील इमाम पर आरोप है कि वह पिछले साल दिसंबर में जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के पास नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ हिंसक विरोध प्रदर्शन शामिल था। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने 28 फरवरी को बिहार से शरजील इमाम को गिरफ्तार किया था, जब शरजील इमाम ने 16 जनवरी को CAA और NRC के खिलाफ अलीगढ़ में भड़काऊ भाषण देते हुए नॉर्थ-ईस्ट को भारत से अलग करने वाली बात कही थी। इसके बाद देश के कई राज्यों में शरजील इमाम के खिलाफ केस दर्ज हुए।

यह भी पढ़ें: 29 साल से Jail में बंद राजीव गांधी हत्याकांड की दोषी नलिनी ने की आत्महत्या की कोशिश

असम को अलग करने वाले भाषण के बाद चर्चा में आया था शरजील

पहले दिल्ली पुलिस ने शरजील को बिहार से गिरफ्तार किया था, फिर असम पुलिस अपने यहां दर्ज देशद्रोह के मामले में शरजील को दिल्ली से लेकर गई थी। तब से ही शरजील असम की जेल में है। शरजील पर आरोप है कि उसने अपने एक भाषण में असम को शेष देश से जोड़ने वाले भूभाग चिकेन नेक को काटने की बात कही थी। शरजील इमाम असम को हिंदुस्तान से अलग करने वाले भाषण के बाद चर्चा में आया था। इस भाषण के खिलाफ शरजील पर देश के कई राज्यों में मुकदमे दर्ज हुए थे। शरजील की गिरफ्तारी के लिए दिल्ली पुलिस ने भी कई टीमें बनाकर कई जगह छापेमारी की थी। बाद में उसे दिल्ली पुलिस ने बिहार पुलिस के सहयोग से बिहार से ही गिरफ्तार किया था।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है