Covid-19 Update

58,645
मामले (हिमाचल)
57,332
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,112,241
मामले (भारत)
114,689,260
मामले (दुनिया)

निराश Santosh के लिए वरदान साबित हुआ Shree Balaji Hospital Kangra

निराश Santosh के लिए वरदान साबित हुआ Shree Balaji Hospital Kangra

- Advertisement -

कांगड़ा। कहते है देर आए, दुरुस्त आए, कुछ ऐसा ही Nagrota Bagwan के वार्ड नंबर दो की रहने वाली Santosh (59) के साथ हुआ है। पेट की गंभीर बीमारी से परेशान Santosh कई जगह उपचार करवाकर थक चुकी थी, अंत निराश संतोष को Shree Balaji Hospital Kangra ने सहारा दिया। दो दिन पहले जो महिला बोलने और बैठन में लाचार थी, वो आज खुद हंस कर कह रही है कि वह अब ठीक है। हालांकि, Operation के बाद पूरी तरह से उबरने में Santosh देवी को थोड़ा समय जरूर लगेगा, लेकिन जिस तकलीफ से वह गुजर रही थी, उससे वह काफी हद तक उबर चुकी है। बता दें कि पेट की गंभीर बीमारी से पीड़ित Santosh दो दिन पहले ही Shree Balaji Hospital Kangra आईं थी। यहां तैनात Gynecologist Dr. Anju Agarwal ने उम्मीद खो चुकी संतोष के चेहरे पर खुशी ला दी है, अब खुद Santosh कह रही है, Shree Balaji Hospital Kangra आकर उन्हें नया जीवन मिला है।

संतोष के साथ Hospital में मौजूद उनके बेटे ने भी Dr. Anju का धन्यवाद किया है। अजय का कहना है कि हर और से निराश होने के बाद उनके पास एक मात्र Shree Balaji Hospital Kangra का ही सहारा था। अपनी मां को दर्द से राहत मिलता देख अजय ने Dr. Anju Agarwal का धन्यवाद किया है। Shree Balaji Hospital की Gynecologist Dr. Anju Agarwal ने बताया कि Santosh के पेट में एक गोला सा बन गया था। जब उन्हें Hospital में लाया गया था, तो उनकी हालत काफी खराब थी, ऐसे में Operation करना ही एकमात्र रास्ता था। उन्होंने बताया कि जब Santosh का Operation किया गया तो, उनकी आतें एक तरह से जम गई। पस के कारण आतें एक दूसरे के साथ चिपकी हुई थी, जिसके चलते Santosh के पेट में एक गोले का आकार बन गया था। Operation के बाद महिला के पेट से पस को निकाल दिया गया है, हालांकि अभी तक उन्हें खाने-पीने की चीजें नहीं दी जा रही है। Santosh की हालत पहले से बेहतर है और कुछ दिनों के बाद वह पूरी तरह से स्वस्थ होकर घर जा सकती हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है